आईपीएल-11 : विजयी राह पर लौटी चेन्नई, बेंगलोर को 6 विकेट से हराया

अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर चेन्नई सुपर किंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के मैच में शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को छह विकेट से हरा दिया. महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) स्टेडियम में खेले गए मैच में चेन्नई के गेंदबाजों ने बेंगलोर को 20 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 127 रनों पर ही सीमित कर दिया और फिर अपने बल्लेबाजों के दम पर इस आसान से लक्ष्य को 18 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

चेन्नई के गेंदबाजों की सटीक लाइन लैंग्थ के सामने बेंगलोर का मजबूत बल्लेबाजी क्रम ताश के पत्तों की तरह ढह गया. उसके लिए सीजन में पहला मैच खेल रहे विकेट कीपर पार्थिर पटेल ने सर्वाधिक 52 रन बनाए. वहीं निचले क्रम में टिम साउदी ने नाबाद 36 रनों की पारी खेली.

इस जीत के बाद चेन्नई ने अंकतालिका में पहले स्थान पर वापसी कर ली है, लेकिन अगर दिन के दूसरे मैच में सनराइजर्स हैदराबाद अपने घर में दिल्ली डेयरडेविल्स को मात देती है तो चेन्नई कुछ ही घंटों के बाद एक बार फिर दूसरे स्थान पर आ जाएगी.

128 रनों के आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई का पहला विकेट 18 के कुल योग पर शेन वाटसन (11) के रूप में गिरा. वाटसन के जाने के बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज अंबाती रायुडू (32) और सुरेश रैना (25) ने टीम को आगे बढ़ाया और स्कोरबोर्ड पर 62 रन टांग दिए. इसी स्कोर पर उमेश यादव ने रैना को साउदी के हाथों कैच करा चेन्नई को दूसरा झटका दिया.

कुछ देर बाद रायुडू भी मुरुगुन अश्विन की गेंद पर मोहम्मद सिराज को कैच देकर पवेलियन लौट लिए. ध्रुव शौरे को कोलिन डी ग्रांडहोम ने आठ के निजी स्कोर पर बोल्ड किया.

यहां से कप्तान महेंद्र सिंह धौनी (नाबाद 21) और ड्वायन ब्रावो (नाबाद 14) ने पांचवें विकेट के लिए 48 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई.

इससे पहले, धौनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और उनके गेंदबाजों ने अपने कप्तान के फैसले को सही साबित करते हुए 7.3 ओवर में ही बेंगलोर के 53 रनों पर ही तीन विकेट चटका दिए. इन तीन विकेटों में ब्रैंडन मैक्कलम (5), कप्तान विराट कोहली (8) और अब्राहम डिविलियर्स (1) के विकेट शामिल थे. हालांकि एक छोर पर पार्थिव खड़े हुए थे. उन्होंने दूसरे विकेट के लिए कोहली के साथ 38 रन जोड़े जिसमें से 30 रन पार्थिव के ही थे.

बेंगलोर का चौथा विकेट मंदीप सिंह (7) के रूप में 73 के कुल स्कोर पर गिरा. टीम ने इसके बाद 84 के स्कोर पर पांचवां विकेट पार्थिव के रूप में खोया. उन्होंने अपनी पारी में 41 गेंदों का सामना करते हुए पांच चौके और दो छक्के लगाए.

यहां से साउदी ही एक छोर संभाल सके और बाकी के बल्लेबाज जल्दी-जल्दी पवेलियन लौट लिए. पारी की आखिरी गेंद पर बेंगलोर ने मोहम्मद सिराज के रूप में अपना नौवां विकेट खोया.

चेन्नई के लिए रवींद्र जडेजा ने तीन, हरभजन सिंह ने दो विकेट लिए. इनकेअलावा आईपीएल में अपना पदार्पण कर रहे डेविड विले के खाते में एक विकेट आया. लुंगी नगिदी भी एक विकेट हासिल करने में सफल रहे.