नैनीताल : अब इधर-उधर कूड़ा फेका तो दर्ज होगी एफआईआर

डीएम विनोद कुमार सुमन ने जनपद के नगरनिगम, नगरपालिका व नगरपंचायतों के प्रशासक का चार्ज लिया. चार्ज लेने के उपरान्त उन्होंने बतौर प्रशासक निकाय अधिकारियों की बैठक लेते हुये सभी निकायों में दस दिन का विशेष सफाई अभियान चलाने के निर्देश दिये.

उन्होंने कहा कि नगर आयुक्त, सहायक नगर आयुक्त, सभी अधिशासी अधिकारी, स्वास्थ्य अधिकारी, इस्पैक्टर प्रातः 6 से 8 बजे तक अपने-अपने निकायों की सफाई व्यवस्था का स्वयं निरीक्षण करेंगे. उन्होंने कहा कि वे स्वयं भी निरीक्षण करेंगे अथवा वीडियो काॅल कर चैकिंग करेंगे, जो अधिकारी फील्ड में नजर नहीं आयेंगे तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी.

प्रशासक सुमन ने कहा कि सभी अधिकारियों को अपने-अपने निकायों की नालियों को साफ कराने के साथ ही शहरों की सभी स्ट्रीट लाइटें जलवाने के निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि घर-घर से कूड़ा उठाया जाय व यूजर चार्जर लिया जाय. ईधर-उधर खुले में कूड़ा डालने वालों पर नजर रखी जाय, प्रथम बार पकड़े जाने पर 500 रूपये तथा द्वितीय बार पकड़े जाने पर 5000 रूपये जुर्माना लगाया जाय व तीसरे बार कूड़ा फैंकते हुये पकड़े जाने पर जुर्माने के साथ ही एफआईआर दर्ज की जाय. उन्होंने कहा कि पाॅलीथिन, प्लास्टिक बोतलें कूड़े से अलग करें तथा उन्हें काॅम्पैक्ट कर सेल किया जाय.

उन्होंने कहा कि निकाय के पार्को का सौन्दर्यीकरण किया जाय इस हेतु जो भी स्वयंसेवी संस्था, सोसायटी, बैंक, व्यक्ति आदि पार्कों के रख-रखाव एवं सौन्दर्यीकरण हेतु गोद लेना चाहते हैं वे गोद ले सकते हैं. सुमन ने निर्देश दिये कि सभी निकाय भारत सरकार के जैमपोर्टल में अपना पंजीकरण करायें तथा पोर्टल के माध्यम से ही सामाग्री व उपकरण खरीदे जायें. उन्होंने कहा कि देयक वसूली हेतु अभियान चलाया जाय. बैठक में सहायक आयुक्त नगरनिगम हल्द्वानी विजेन्द्र चैहान, अधिशासी अधिकारी मनोज दास, राजू नबियाल, गीता चौधरी आदि मौजूद थे.