राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह से पहले मचा बवाल, राष्ट्रपति से नाराज फिल्मी कलाकार

दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह का आयोजन किया जाना है. इस दौरान सिनेमा के विभिन्न क्षेत्रों से कुल 140 कलाकारों को पुरस्कार दिया जाएगा. राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के लिए घोषित किए गए करीब 75 लोगों ने पुरस्कार समारोह का बहिष्कार करने का फैसला किया है.

द प्रिंट की रिपोर्ट के अनुसार, नेशनल फिल्म अवॉर्ड्स की ड्रेस रिहर्सल के दौरान विजेताओं को जानकारी मिली कि समारोह में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद सिर्फ एक घंटे के लिए ही शामिल होंगे. इस दौरान वह सिर्फ 11 विजेताओं को ही पुरस्कृत कर पाएंगे. इस जानकारी के विरोध में ही अन्य कलाकारों ने पुरस्कार समारोह में शामिल ना होने का फैसला किया है.

पारंपरिक तौर पर राष्ट्रपति प्रत्येक विजेता को खुद ये सम्मान देते हैं. इसी के चलते नाराजगी जाहिर करते हुए अन्य कलाकारों का यहां तक कहना है कि बीते साल राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी हर एक विजेता को पुरस्कार दिए थे. अब तक सामने आई रिपोर्ट्स के मुताबिक राष्ट्रपति कोविंद सिर्फ 11 विजेताओं को पुरस्कार देंगे. इसके बाद अन्य अवॉर्ड सूचना व प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा दिए जाएंगे.

बता दें कि साल 1954 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की शुरुआत की गई थी. भारतीय सिनेमा में इन पुरस्कारों को बहुत अहम माना जाता है. इस साल 65वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार दिए जाने हैं. इसके निर्णायक मंडल की अध्यक्षता शेखर कपूर ने की है और उनके साथ इम्तियाज हुसैन, गीतकार महबूब, एक्टर गौतमी तडीमल्ला जैसी हस्तियां भी शामिल रहीं.