डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन सिंगापुर में कर सकते हैं मुलाकात, अमेरिकी राष्ट्रपति ने मांगे सुझाव

उत्‍तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन और अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप- फाइल फोटो

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन के बीच शिखर वार्ता कब होगी यह अभी तय नहीं है, लेकिन राष्ट्रपति ट्रंप ने इस बात की पुष्टि की है कि उनके और किम के बीच सिंगापुर में मुलाकात हो सकती है. ट्रंप ने इससे पहले उत्तर और दक्षिण कोरियाई सीमा पर स्थित पीस हाउस को दोनों नेताओं की वार्ता के लिए विकल्प बताया था.

राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्विटर पर इस ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिए कई स्थानों के नाम की लिस्ट बनाई थी. अमेरिका के राष्ट्रपति और उत्तर कोरिया के शासक के बीच यह पहली शिखर वार्ता होगी. संभावित वार्ता स्थल को लेकर यह ट्रंप की ओर से यह पहली सार्वजनिक टिप्पणी है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्वीट करके सवाल किया, ‘बैठक के लिए कई देशों के नामों पर विचार किया जा रहा है लेकिन क्या तीसरे देश के बजाय उत्तर और दक्षिण कोरिया की सीमा पर पीस हाउस या फ्रीडम हाउस ज्यादा बेहतर, महत्वपूर्ण और हमेशा के लिए यादगार स्थल होगा? केवल पूछ रहा हूं!’

दोनों कोरियाई देशों को अलग करने वाले असैन्य क्षेत्र में शांति गांव पनमुन्जोम में ‘पीस हाउस’ वह स्थान है जहां किम और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जेई इन शुक्रवार को ऐतिहासिक वार्ता के लिए मिले थे. वर्ष 1953 के बाद दक्षिण कोरियाई धरती पर कदम रखने वाले उत्तर कोरिया के पहले नेता किम बैठक के लिए मून के साथ पीस हाउस गए थे.

इस सम्मेलन के बाद से ट्रंप और किम के बीच वार्ता की तैयारियों ने जोर पकड़ा है. इससे पहले किम ने परमाणु मिसाइल टेस्ट कार्यक्रमों को बंद करने का ऐलान किया था. उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने ऐतिहासिक शिखर वार्ता में दक्षिण कोरिया के अपने समकक्ष से कहा कि अगर अमेरिका कोरियाई युद्ध को औपचारिक रूप से खत्म करने का वचन दे और उत्तर कोरिया पर हमला नहीं करने का वादा करे तो उनका देश परमाणु हथियारों को त्यागने को तैयार है. सोल में अधिकारियों ने यह जानकारी दी थी.