नैनीताल: बंजर भूमि में खेती कर मिसाल बने किसान हरि गिरी ने CM से मांगी बिजली, 18 घंटे में लगा मुफ्त कनेक्शन

बेतालघाट के किसान हरिगिरी के घर लगा बिजली कनेक्शन

नैनीताल जिले के बेताल घाट क्षेत्र के कटमी गजार गाँव के बंजर बलुई भूमि पर कड़ी मेहनत से अपने और अपने परिवार की तकदीर सवारने वाले किसान हरि गिरि ने कृषि के क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बनाई है, जहाँ पिछले कई सालों से गाँव के कई लोगों ने पलायन किया वहीँ अपनी कर्मठता से बिना किसी सरकारी मदद के अपनी मेहनत से बंजर जमीन को भी हरा भरा कर दिया.

हरि गिरि स्वंय लगभग 30 मीटर गहरा गड्डा खोदकर, निजी पम्प सेट से प्याज, लहसन व आलू का उत्पादन कर रहे है, लेकिन खेतों के आस पास आज तक बिजली न होने की वजह से पम्प सेट कार्य कर रहे थे. खेतों के चारों और घना जंगल होने की वजह से रात को जंगली जानवरों का खतरा रहता है फिर भी किसान हरिगिरी टिन सेड में बिजली न होने के कारण दिया और लकड़ी जलाकर अपनी रात गुजार रहे थे.

कई वर्षों से जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों को वो अपनी समस्या भी बता रहे थे परन्तु समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा था.उनके पुत्र प्रेम ने कुछ दिन पहले अखबार में पढ़ा कि मुख्यमंत्री उत्तराखंड के मोबाइल एप्प पर शिकायत दर्ज कराने से कई लोगों की समस्या का समाधान बहुत शीघ्र हो गया, इस से प्रेरित होकर किसान हरि गिरी के पुत्र प्रेम ने मुख्यमंत्री मोबाइल एप्प को डाउनलोड कर एप्प के द्वारा अपनी समस्या मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिह रावत को बताई.

मुख्यमंत्री कार्यालय ने अधिशासी अभियन्ता विद्युत नैनीताल मो0 उस्मान को किसान हरि गिरी के खेतों में बिजली पहुंचाने के निर्देश दिए, निर्देशों के अनुपालन में कुमाऊ मुख्य अभियन्ता विद्युत एच के गुरूरानी ने अधिकारियों को तुरंत किसान हरि गिरी को बिजली मुहैया कराने के आदेश दिए .

एप्प पर शिकायत प्राप्त होने के मात्र 18 घंटे के अन्दर ही किसान हरगिरी के खेतों में बने घर में सरकार द्वारा मुफ्त नया बिजली का कन्नेक्शन लगा दिया गया है, बिजली का कनेक्शन लगने से हर गिरी और उनका परिवार बहुत खुश है और उन्होंने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को इस कार्य के लिए धन्यवाद दिया.