उन्नाव मामला : बीजेपी विधायक पर दर्ज हुई FIR, यूपी पुलिस ने कहा- CBI करेगी फैसला

गुरुवार (12 अप्रैल) को उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा कि नाबालिग लड़की से सामूहित बलात्कार के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की तत्काल गिरफ्तारी नहीं होगी. उन्नाव की रहने वाली नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ गुरुवार (12 अप्रैल) को एफआईआर दर्ज की गयी.

बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आईपीसी की धारा 363, 366, 376 और 506 के अलावा पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. योगी आदित्यनाथ सरकार ने उन्नाव गैंगरेप की जांच के लिए गठित स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) की रिपोर्ट के आधार पर मामले की सीबीआई जाँच की अनुशंसा की है.

इलाहाबाद हाईकोर्ट में भी गुरुवार (12 अप्रैल) उन्नाव गैंगरेप मामले में सुनवाई होगी. हाईकोर्ट ने बुधवार को स्वत: संज्ञान लेते हुए पूरे मामले पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी थी. इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दाखिल की गई है.

बता दे विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर को पहले ही पीड़िता के पिता की पिटाई करने के आरोप में गिरफ्तार किया जा चुका है. आरोप है कि विधायक के भाई ने अपने साथियों के साथ मिलकर पीड़िता के पिता की बुरी तरह पिटाई की और उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दिया.

पुलिस ने पीड़िता को पिता को गिरफ्तार कर लिया. चार दिन बाद पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गयी. पीड़िता के पिता की मौत के बाद मामला मीडिया में तूल पकड़ने लगा तो पुलिस ने विधायक के भाई को गिरफ्तार किया और सीएम योगी ने मामले की एसआईटी जांच के आदेश दिये.