राफेल सौदे को लेकर राहुल का मोदी पर निशाना

शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने फ्रांस के साथ राफेल लड़ाकू विमान सौदे में कथित घोटाले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. गांधी ने ट्वीट में ‘मोदी घोटाला चेतावनी’ जारी करते हुए कहा, “15 अरब डॉलर लड़ाकू जेट सौदे की निविदा फिर से पेश की गई. प्रधानमंत्री के दोस्त रणनीतिक भागीदारों के साथ संबंध स्थापित करने के लिए भाग रहे हैं.”

उन्होंने कहा, “राफेल सौदे में सरकारी खजाने को 40 हजार करोड़ रुपये का नुकसान फ्रांस को सायोनारा (जापानी भाषा में उपहार) राशि थी. इसलिए प्रधानमंत्री दोस्तों को समर्थन देने के लिए फिर से अनुबंध प्रस्तुत कर रहे हैं.”

हाल में प्रकाशित हुई एक खबर में जिक्र किया गया था कि भारत करीब 15 अरब डॉलर या 100,000 करोड़ रुपये में 100 से अधिक नए लड़ाकू विमान खरीदने जा रहा है. राहुल गांधी की यह टिप्पणी इस खबर के बाद आई है.

कांग्रेस लंबे समय से केंद्र की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर फ्रांस सरकार के साथ 36 राफेल लड़ाकू विमान सौदे में घोटाले का आरोप लगा रही है. कांग्रेस का आरोप है कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार ने 126 मध्यम श्रेणी के बहु-भूमिका वाले लड़ाकू विमान (एमएमआरसीए) का सौदा जितनी राशि में किया था, भाजपा ने पिछले सौदे के मुकाबले बहुत अधिक राशि खर्च की है.

कांग्रेस सौदे की कीमत का खुलासा करने के लिए केंद्र पर दबाव डाल रही है, लेकिन मोदी सरकार नरम पड़ती नहीं दिखाई दे रही है. रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा होने के कारण कीमतों का खुलासा नहीं किया जा सकता.