एसएससी पेपर लीक मामले में दिल्ली की सडकों पर फुटा छात्रों का गुस्सा

देश में सीबीएसई, एसएससी और निट के पेपर लीक के मामले पर छात्रों का गुस्सा फुट पड़ा है, साथ ही सियासत भी इस मामले को लेकर गरमा गई है. इन पेपर लीक मामलों को लेकर केंद्र सरकार पर विपक्षी दलों ने जमकर निशाना साधा और तंज भी कसे है.

वहीं दूसरी तरफ छात्रों ने भी केंद्र सरकार और सीबीएसई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है. सबसे पहले छात्रों ने सीबीएसई के कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया बाद में एचआरडी मंत्री प्रकाश जावडेकर के बाहर प्रदर्शन किया, जिस वजह से उनके घर के बाहर धारा 144 लागू कर दी थी.

इतना ही नहीं छात्रों ने संसद मार्ग पर भी विरोध प्रदर्शन किया है और पुलिस के साथ झड़प भी हुई. इतना ही नहीं छात्रों ने केंद्र सरकार के सामने मांग रखी है और कहा है कि अगर इन विषय के पेपर दोबारा हुए तो बाकि विषयों के पेपर भी होने चाहिए, वरना किसी भी विषय के पेपर नहीं होने चाहिए.

बता दें कि बोर्ड ने 12वी के अर्थशास्त्र विषय का पेपर 25 अप्रैल को दोबारा होने की धोषणा की है वहीं दूसरी तरफ अभी 10वीं के पेपर को जुलाई में करवाया जा सकता है.

इस मामले पर शिक्षा सचिव अनिल स्वरूप ने कहा है कि जांच में पता चला है कि 10वीं का गणित का पेपर दिल्ली और हरियाणा तक ही लीक हुआ था. अब तक इस मामले में दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने छात्रों एवं ट्यूशन देने वाले शिक्षकों सहित करीब 60 लोगों से पूछताछ की है.