अगले चार-पांच दिनों में उत्तराखण्ड के पर्वतीय इलाकों के तापमान में आयेगा उछाल

पहाड़ के तापमान में अगले चार-पांच दिनों में आठ से दस डिग्री उछाल आ सकता है. ऐसी चेतावनी मौसम विभाग ने  जारी की है. विभाग ने वन विभाग को भी चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि एकाएक तापमान बढ़ने से वनों में आग लगने की घटनाएं बढ़ सकती हैं. मंगलवार को मौसम विज्ञान केंद्र ने प्रदेश भर के लिये चेतावनी जारी की है.

जिसमें कहा गया है कि उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में अगले चार से पांच दिनों में तापमान औसत से आठ से दस डिग्री तक बढ़ जायेगा. ये भी कहा गया है कि पर्वतीय इलाकों के लिए यह असामान्य तापमान है. अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि इस समय मुक्तेश्वर में तापमान 25.4 डिग्री है. यानी वहां पर 35 डिग्री तक तापमान होगा.

मुक्तेश्वर में इतना तापमान पिछले बीस सालों में कभी नहीं गया. मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार अगले चार-पांच दिन में नई टिहरी में तापमान 35 से ज्यादा हो सकता है. मैदानी जिलों में तापमान 40 डिग्री तक पहुंच सकता है. इस बार जाड़ों में कम बारिश होने के कारण वातावरण गर्म हो रहा है और नमी खत्म हो रही है. इसलिए तापमान में यह उछाल आने वाला है. मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया, पर्वतीय इलाकों में वायु प्रदूषण मैदान के अपेक्षा कम होता है.

लिहाजा, हवा शुष्क होने से धूप ज्यादा गर्मी पैदा करेगी. ये स्थित जंगलों में आग के लिये मुफीद होती है. लिहाजा, वन विभाग को अलर्ट भेजा गया है. राज्य मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार ये परिस्थिति ‘इंटर एनुअल क्लाइमेट वैरिएबिलिटी’ के तहत आती है. जो मौसम से जुड़ी एक सामान्य परिघटना है. इसमें हवा शुष्क हो जाती है और ऊपर से नीचे की तरफ बहती है.