विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का तीन दिवसीय जापान दौरा कल से, 9वें भारत-जापान रणनीतिक वार्ता में लेंगी हिस्सा

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जापान का तीन दिवसीय दौरा करेंगी. सुषमा स्वराज का यह तीन दिवसीय दौरा 28 मार्च से 30 मार्च तक होगा. बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 29 मार्च को जापान के विदेश मंत्री तारो कोनो के साथ 9 वें भारत-जापान रणनीतिक वार्ता की सह-अध्यक्ष होंगी.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का यह तीन दिवसीय जापान दौरा मुख्य रूप से भारत और जापान के रिश्तों को मजबूती प्रदान करेगा. इस 9 वें भारत-जापान रणनीतिक वार्ता में मुख्य रूप से भारत की ओर से तकनीकीकरण को मुख्य आधार बनाने पर बल दिया जाएगा.

भारत और जापान के व्यापारिक सम्बन्ध शुरुआती समय से ही काफी मजबूत और स्थिर रहे हैं. जापान की कई कम्पनियाँ जैसे कि सोनी, टोयोटा और होंडा ने अपनी उत्पादन इकाइयाँ भारत में स्थापित की हैं और भारत की आर्थिक विकास में योगदान दिया है.

इस क्रम में सबसे अभूतपूर्व योगदान है वहाँ की मोटर वाहन निर्माता कंपनी सुज़ुकी का जो भारत की कंपनी मारुति सुजुकी के साथ मिलकार उत्पादन करती है और भारत की सबसे बड़ी मोटर कार निर्माता कंपनी है.

गौरतलब है कि वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय उपमहाद्वीप से बाहर किसी द्विपक्षीय विदेशी यात्रा के लिए सर्वप्रथम जापान को ही चुना था.