भारत-चीन सीमा क्षेत्र बाड़ाहोती में फिर दिखे चीनी हेलीकॉप्टर

उत्तराखंड के चमोली जिले से लगे भारत-चीन सीमा क्षेत्र बाड़ाहोती में चीन की ओर से बार-बार घुसपैठ की जा रही है. बताया जा रहा है कि बीते दस मार्च को चीनी सेना के तीन हेलीकॉप्टर भारत की सीमा पर करीब चार किलोमीटर अंदर घुस आए.

हेलीकॉप्टर करीब पांच मिनट तक आसमान में मंडराने के बाद चले गए. हालांकि मामले की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है. चमोली जिला प्रशासन और आईटीबीपी के अधिकारी चीनी सैनिकों की घुसपैठ से इंकार कर रहे हैं.

चमोली से लगे सीमा क्षेत्र बाड़ाहोती में चीन की ओर से कई बार घुसपैठ की कोशिश की जा चुकी है. चीन की ओर से विगत वर्ष 25 जुलाई को भी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के करीब 200 जवान भारत की सीमा में करीब एक किलोमीटर अंदर तक घुस आए थे. उन्होंने यहां भारतीय चरवाहों को धमकाया और वापस चले जाने को कहा था. मामला प्रकाश में आने के बाद देशभर में खलबली मच गई थी.

इस बार भी बताया जा रहा है कि बीते दस मार्च को चीनी हेलीकॉप्टर भारत की सीमा में करीब 18 किलोमीटर तक घुस आए थे. इधर, चमोली के जिलाधिकारी आशीष जोशी का कहना है कि सीमा क्षेत्र में किसी भी प्रकार की कोई गतिविधि की सूचना नहीं मिली है. सेना व आईटीबीपी की ओर से भी इस प्रकार के किसी मामले की जानकारी नहीं दी गई है.

आईटीबीपी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चीन सीमा क्षेत्र बाड़ाहोती में इन दिनों कड़ाके की ठंड पड़ रही है. यहां होतीगाड़ के साथ ही कई छोटे-बड़े नाले पाले से जम गए हैं. दूर-दूर तक फैली चोटियों पर भी बर्फ जमीं हुई है.