केरल ISIS भर्ती मामला : मुख्य आरोपी यासीन मोहम्मद जाहिद को सात साल की कैद

शनिवार को कोची स्थित एनआईए(NIA) कोर्ट ने केरल में आतंकवादी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के लिए भर्ती मामलें में फैंसला सुनाते हुए मुख्य आरोपी यासीन मोहम्मद जाहिद के खिलाफ सजा का ऐलान कर दिया है. कोर्ट ने जाहिद को सात साल कैद की सजा सुनाई है.

इस मामलें में एनआईए की तरफ से सरकारी वकील अर्जुन ने मीडिया को बताया कि कोर्ट ने आरोपी जाहिद को गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम यानि(UAPA) के अधिनियम की विभिन्न धाराओं 38,39 व 40 के तहत दोषी करार देते हुए 7 साल की सजा का ऐलान किया है.

सरकारी वकील ने आगे बताया कि यहीं नहीं कोर्ट ने आरोपी जाहिद पर 25,000 रूपये का जुर्माना भी लगाया है.

आपको बता दे कि जाहिद पर केरल से लापता हुए लोगों को अंतर्रराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन (ISIS) में भर्ती करने का आरोप है. गायब हुए लोग एक दिन अचानक से अपने घरों से गायब हो गए थे. काफी ढूंढने के बाद भी जब उन लोगों का कोई सुराग नहीं मिला तो. मामला एनआईए की जांच टीम को सौंपा गया.

एनआईए(NIA) की जांच में पता चला कि गायब हुए सभी लोग अफगानिस्तान चले गए है. और वहां उन्होंने अंतर्रराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन आईएसआईएस(ISIS) में शामिल हो गए है. जांच में पता चला कि गायब हुए लोगों को आईएसआईएस(ISIS) में भर्ती कराने में आरोपी जाहिद ने अहम भूमिका निभाई है.

एनआईए(NIA) ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जाहिद आईएसआईएस(ISIS) के लिए काम करता है ओर काफी समय से भारत में रहकर युवाओं को बहला-फुसलाकर आईएसआईएस(ISIS) में भर्ती करने का काम करता है. एनआईए ने जाहिद के खिलाफ पर्याप्त सबूत इकट्ठा कर उसके खिलाफ कोर्ट में केस दायर कर उसकी गिरफ्तारी की थी.