गूगल ने जापानी भूरसायनशास्त्री कात्सुको सारुहाशी की याद में डूडल बनाया

सर्च इंजन गूगल ने गुरुवार को जापान की भूरसायनशास्त्री कात्सुको सारुहाशी की 98वीं जयंती पर डूडल बनाकर उन्हें याद किया. गूगल ने कहा, “डॉ.कात्सुको सारुहाशी के 98वें जन्मदिन पर हम उन्हें विज्ञान और दुनियाभर के युवा वैज्ञानिकों को सफलता के लिए प्रेरित करने के लिए उनके अविश्वसनीय योगदान के लिए श्रद्धांजलि देते हैं.”

अम्लीय वर्षा और समुद्री जल में कार्बन डाइऑक्साइड के स्तर पर केंद्रित अपने अभूतपूर्व अनुसंधान के लिए लोकप्रिय सारुहाशी वर्ष 1957 में टोक्यो यूनिवर्सिटी से रसायन विज्ञान में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त करने वाली पहली महिला थीं.

वह तापमान, पीएच स्तर और क्लोरिनिटी के आधार पर पानी में कार्बोनिक एसिड की सांद्रता का सटीक तरीके से मापन करने वाली पहली वैज्ञानिक थीं.

‘सारुहाशी टेबल’ नाम से जानी जाने वाली यह पद्धति दुनियाभर के महासागरीय वैज्ञानिकों के लिए काफी मददगार साबित हुई.

उन्होंने महासागरों में रेडियोएक्टिव की गति का पता लगाने की एक तकनीक भी विकसित की, जिसके कारण वर्ष 1963 के समुद्री परमाणु प्रयोग को सीमित करना पड़ा.