बीसीसीआई ने बढ़ाई मोहम्मद शमी की मुश्किलें, जा सकते हैं जेल

पत्नी हसीन जहां द्वारा लगाए गए संगीन आरोपों के बाद भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की मुश्किलें आैर बढ़ गई हैं. हसीन ने शमी पर फिक्सिंग के आरोप लगाए थे और कहा था कि उन्होंने दुबई में अलिस्बा नामक एक पाकिस्तानी लड़की से पैसे लिए थे.

इसमें मोहम्मद भाई नामक एक व्यक्ति की भूमिका भी बताई गई थी जो इंग्लैंड में रहता है. अब इस मामले पर बीसीसीआई शमी पर लगे मैच फिक्सिंग आरोपों की जांच कराएगा. बीसीसीआई ने पहले से ही शमी का सालाना अनुबंध होल्ड पर कर दिया था.

सीओए ने एंटी करप्शन को भेजा ई-मेल
सीओए प्रमुख विनोद राय ने बुधवार को बोर्ड की एंटी करप्शन यूनिट के हेड नीरज कुमार को ई-मेल भेजकर इस मामले की जांच करने को कहा है. विनोद ने एक हफ्ते के भीतर जांच रिपोर्ट एसीयू को अपनी रिपोर्ट पेश करने को कहा है. बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी के अलावा सभी पदाधिकारियों को भी ये ई-मेल भेजा गया है.

खतरे में क्रिकेट करियर
मामले को बढ़ता देख अब शमी का क्रिकेट करियर भी खतरे में पड़ता नजर आ रहा है. आईपीएल सीजन 11 की शुरूआत कुछ दिनों में होनी वाली है, लेकिन शमी का इसमें खेलने पर सस्पेंस बना हुआ है. 16 मार्च को अब आइपीएल गवर्निग काउंसिल की बैठक होगी, जिसमें यह फैसला लिया जाएगा कि क्या शमी दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए आईपीएल खेंलेगे या नहीं.

हसीन ने अपने पति शमी पर कई संगीन आरोप लगाए हैं. हसीन ने शमी पर मारपीट, बाहर की लड़कियों के साथ अवैध संबंध, दहेज प्रताड़ित आैर पाकिस्तानी कनेक्शन जैसे आरोप लगाए हैं. शमी के खिलाफ कोलकाता के लाल बाजार पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस ने शमी और उनके परिवार के चार सदस्यों के खिलाफ आईपीसी की धारा 498A, 323, 307, 376, 506, 328 और 34 के तहत केस दर्ज किया है.