आज से 4000 केंद्रो पर 28 लाख स्टूडेंट देंगे CBSE बोर्ड परीक्षा

सीबीएसई बोर्ड परीक्षाए शुरू हो गई है. इस साल 4000 केंद्रो पर 28 लाख स्टूडेंट बोर्ड परीक्षा देंगे.

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षाएं सोमवार यानी आज से शुरू हो रही हैं. सीबीएसई की ओर से जारी डेटशीट के अनुसार आज 12वीं कक्षा का अंग्रेजी का पेपर है. इस साल 10वीं और 12वीं कक्षाओं की परीक्षाओं में 28 लाख से ज्यादा छात्र शामिल हो रहे हैं.

वहीं सीबीएसई के एक अधिकारी ने बताया कि 10वीं कक्षा की परीक्षा के लिए कुल 16,38,428 जबकि 12वीं कक्षा की परीक्षा के लिए 11,86,306 छात्रों ने पंजीकरण कराया है. बता दें, बोर्ड परीक्षा में 8 ट्रांसजेंडर छात्र भी शामिल हो रहे हैं. 6 ट्रांसजेंडर छात्र कक्षा 10वीं की परीक्षा और 2 ट्रांसजेंडर छात्र 12वीं की परीक्षा देंगे.

वहीं सरकार ने इससे पहले अपनाई गई व्यापक एवं सतत मूल्यांकन यानी (CCE) को हटाने का फैसला किया, जिसके बाद सरकार ने इस साल से 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा दोबारा से शुरू कर दी.

सीबीएससी ने कहा 10वीं परीक्षाएं भारत में 4,453 और देश से बाहर 78 केंद्रों पर आयोजित हो रही है. इसी तरह 12वीं की परीक्षा भारत में 4,138 और विदेशों में 71 केंद्रों पर आयोजित करने की तैयारी है.

वहीं सीबीएसई अधिकारी ने कहा, ‘बोर्ड ने देशभर में नकलविहीन परीक्षा और कठिनाइयों से मुक्त परीक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्य प्राधिकरणों एवं स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर पर्याप्त व्यवस्थाएं की है.

सीबीएसई ने डायबिटीज से पीड़ित छात्रों का खास ख्याल रखते हुए कहा है कि उन्हें परीक्षा केंद्रों में खाने पीने की चीजें रखने की मंजूरी दी गई है.

सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं कक्षा के उन छात्रों को बड़ी राहत दी है, जो किसी तरह की शारीरिक अक्षमता से पीड़ित हैं. उन विशेष जरूरत वाले छात्रों को सीबीएसई ने बोर्ड परीक्षा में कंप्यूटर या लैपटॉप इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है.

वहीं परीक्षा केंद्र के अंदर जाने से पहले कंप्यूटर शिक्षक उनके लैपटॉप की जांच करेंगे साथ ही इंटरनेट कनेक्शन की मंजूरी नहीं होगी. बता दें, 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं के लिए शारीरिक रूप से पीड़ित 4,510 और 2,846 छात्रों ने पंजीकरण कराया है.