झारखण्ड : अनियंत्रित कार ने छह लोगों को रौंदा, आठ घायल

बीती शनिवार रात झारखण्ड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के एनएच 75 पर चक्रधरपुर थाना क्षेत्र के बोड़दा पुल के समीप एक अनियंत्रित कार ने सड़क किनारे खड़े ग्रामीणों को रौंद डाला. हादसे में छह ग्रामीणों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि आठ अन्य लोग घायल हो गए.

घटनास्थल से घायलों को चक्रधरपुर स्थित रेलवे अस्पताल एवं अनुमंडल अस्पताल पहुंचाया गया. रेलवे अस्पताल में इलाज के दौरान एक घायल को मृत घोषित किया गया, जबकि अनुमंडल अस्पताल में पांच लोग मृत पाए गए. जानकारी के मुताबिक, शनिवार देर शाम चाईबासा की ओर से एक तेज रफ्तार लाल रंग की कार तेजी से आ रही थी. इसी क्रम में एक बाइक को टक्कर मारते हुए कार ने सड़क के किनारे खड़े ग्रामीणों को कुचल दिया. हादसे के बाद मौके पर ही ग्रामीणों ने चालक की जमकर पिटाई कर दी.

लेकिन वह किसी तरह चंगुल से बचकर निकलने में सफल रहा. सोशल मीडिया में चल रही चर्चाओं के मुताबिक चालक का नाम सुमन अग्रवाल बताया जा रहा है. चक्रधरपुर में एनएच 75 पर बोड़दा पुल के करीब एक तेज रफ्तार अनियंत्रित कार की चपेट में आने वाले घायल ग्रामीणों को इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दो गंभीर रूप से घायल ग्रामीणों को टीएमएच में भर्ती कराया गया है. इन दोनों घायलों की स्थिति नाजुक बनी हुई है. जबकि, पांच घायल खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं.

इन्हें इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मुख्यमंत्री रघुवर दास के आदेश पर एडीएम विधि-व्यवस्था सुबोध कुमार ने रात तकरीबन 12 बजे एमजीएम अस्पताल पहुंच कर घायलों को भर्ती कराया. इसके बाद एडीएम ने इन मरीजों के इलाज का इंतजाम कराया. एडीएम अस्पताल में घायलों के पास आधे घंटे तक रुके और परिजनों से घटना की जानकारी ली. दुबे हेम्ब्रोम घोड़ाडूबा गोईलकेरा, सुखलाल हेम्ब्रम गोईलकेरा, दिसंबर पाट पिंगुवा जामेजुई हाटगम्हरिया, रासिका पाट पिंगुवा जामेजुई हाटगम्हरिया, लंकेश्वर पाट पिंगुवा जामेजुई हाटगम्हरिया व एक अज्ञात. घायलों में मांगू तामसोय, सुखलाल बाउरी, महेश बानरा आदि शामिल हैं.