गाजियाबाद : बाथरूम में एक दंपति की लाश मिलने से फैली सनसनी

गाजियाबाद के इंदिरापुरम में घर के बाथरूम में एक दंपति की लाश मिलने से सनसनी फैल गई. दोनों मृतकों के शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था. एसएसपी एचएन सिंह ने बताया कि दोनों के शवों का पोस्टमार्टम हो गया है, लेकिन रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है.

पुलिस ने फोरेंसिक लैब में जांच के लिए विसरा प्रिजर्व करा दिया है. जानकारी के अनुसार, ज्ञानखंड में नीरज सिंघानिया, पत्नी रुचि सिंघानिया और बेटी पिहू के साथ रहते थे. नीरज मोबाइल कंपनी मैट्रिक्स में डीजीएम और पत्नी रुचि अमेरिका की आई कंपनी में काम करती थीं.

वे मूल रूप से बरेली के रहने वाले थे. साथ में छोटा भाई वरुण उसकी पत्नी व बहन भी रहती हैं. शुक्रवार को नीरज के पिता प्रेमप्रकाश सिंघानिया का जन्मदिन और रुचि के माता-पिता की मैरिज एनिवर्सरी थी. सभी मिलकर इसे रात में सेलिब्रेट करने वाले थे.

इसके लिए रुचि के पैरंट्स भी यहीं आए हुए थे. होली मनाकर शाम करीब साढ़े 5 बजे सभी अपने-अपने कमरे में चले गए. रुचि खाना बनाने की बात कहकर बाथरूम में चली गई. नीरज के पिता प्रेमप्रकाश सिंघानिया के अनुसार शाम 7:30 बजे के करीब उन्होंने नीरज के रूम को नॉक किया लेकिन कोई जवाब नहीं मिला.

नीरज के पिता ने सोचा कि कुछ देर बाद पति-पत्नी उठ जाएंगे. रात 9:30 बजे के करीब वापस उन्होंने बेडरूम को नॉक किया, लेकिन इस बार भी कोई जवाब नहीं मिला. इसके बाद उन्होंने अपने छोटे बेटे वरुण को बताया तो उसने स्टूल लगाकर बेडरूम के अंदर झांका.

वरुण को बाथरूम के अंदर अपनी भाभी का पैर नजर आया. इस पर परिवार को कुछ संदेह हुआ. बेडरूम का दरवाजा तोड़कर वे अंदर घुसे तो देखा कि नीरज और रुचि बाथरूम के अंदर बेहोश पड़े थे. मैक्स हॉस्पिटल से डॉक्टर बुलाया गया, जिसने नीरज और रुचि को मृत घोषित कर दिया.

प्रेमप्रकाश सिंघानिया ने बताया कि बाथरूम के अंदर गैस गीजर लगा हुआ है, लेकिन वह इस्तेमाल नहीं किया गया है. बाल्टी के अंदर भी पानी मौजूद नहीं था. ऐसे में दोनों की मौत को लेकर पूरा परिवार स्तब्ध है कि आखिर उनके बेटे-बहू की मौत कैसे हुई.