CBI कार्ति चिदंबरम-इंद्राणी को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ कर सकती है

2007 में पी. चिदंबरम के वित्त मंत्री रहने के दौरान आईएनएक्स मीडिया के 305 करोड़ रुपये विदेशी फंड हासिल करने से जुड़ा है.

आरोप हैं कि आईएनएक्स मीडिया ने फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (FIPB) क्लीयरेंस हासिल करने में अनियमितता बरती थी. आरोप हैं कि कार्ति की कंपनी को यह फंड दिलवाने के लिए 10 लाख रुपये मिले थे.

कार्ति चिदंबरम को इस सप्ताह की शुरुआत में चेन्नई हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया था. सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर के 9 महीने बाद कार्ति की गिरफ्तारी हुई. उन पर आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, सार्वजनिक नौकरियों को प्रभावित करना और आपराधिक कदाचार का आरोप है.

आईएनएक्स मीडिया रिश्वत कांड में गिरफ्तार पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को सीबीआई रविवार को मुंबई ला रही है. जानकारी के अनुसार जांच एजेंसी कार्ति चिदंबरम और इंद्राणी मुखर्जी को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ कर सकती है.

इंद्राणी अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या मामले में मुंबई की एक जेल में बंद है. दिल्ली में सीबीआई की विशेष अदालत में पिछली सुनवाई के दौरान, एजेंसी ने अदालत से कहा था कि वे इस मामले में अन्य सह-आरोपी इंद्राणी के साथ कार्ति से पूछताछ करना चाहती है. सूत्रों के अनुसार इंद्राणी ने इस मामले में अपना एक बयान भी दर्ज कराया है.

कोर्ट ने कार्ति को होली से एक दिन पहले 5 दिन के लिए सीबीआई रिमांड पर भेज दिया था. रिमांड पर भेजे जाने के कोर्ट के फैसले के बाद उन्होंने गुरुवार को कहा कि अदालतों में उनकी कई याचिकाएं लंबित हैं.

वह ‘आखिरकार निर्दोष साबित’ होंगे. बता दें कि सीबीआई ने पटियाला हाउस कोर्ट से कार्ति को 14 दिनों की रिमांड पर भेजने की मांग की थी, जिस पर कोर्ट ने उन्हें 6 मार्च तक के लिए सीबीआई हिरासत में भेजने का फैसला किया.

दिल्ली में सीबीआई की टीम ने शुक्रवार को कार्ति चिदंबरम से लंबी पूछताछ की. इस दौरान कार्ति से एफपीआईबी अप्रूवल को लेकर सवाल जवाब किए गए. अपने विदेश दौरे के दौरान कार्ति ने वित्त मंत्रालय के जिन गुप्त दस्तावेजों के साथ छेड़खानी कर सबूतों को कमजोर करने की कोशिश की थी, सीबीआई ने उसे लेकर भी पूछताछ की.

ईडी ने इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है. कार्ति पर आरोप है कि उन्होंने कर संबंधी जांच से बचने के लिए पीटर और इंद्राणी मुखर्जी के स्वामित्व वाली मीडिया कंपनी आईएनएक्स से कथित तौर पर धन लिया था. वहीं, कार्ति और उनके पिता पी. चिदंबरम ने अपने खिलाफ लगाए गए आरोपों से इनकार किया है. सीबीआई 2006 के एयरसेल-मैक्सिस डील में FIPB क्लीयरेंस देने में अनियमितता के मामले की भी जांच कर रही है.