डॉ. पीतांबर अवस्थी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान चलाया

रविवार को डॉ. पीतांबर अवस्थी ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि लगातार घट रही कन्याओं की संख्या भविष्य में सामाजिक विसगंतियां खड़ी कर सकती हैं. इसके लिए लोगों को अभी से जागना होगा. उन्होंने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या जघन्य अपराध है.

शिक्षक डॉ. पीतांबर अवस्थी ने सरस्वती बालिका विद्या मंदिर में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान चलाया. अभियान के माध्यम से उन्होंने लोगों को बेटियों के महत्व से अवगत कराया.

ऐसे लोगों के सामाजिक बहिष्कार की जरूरत है. कहा कि बेटियों को संस्कृति व परंपराओं की संवाहक है. बेटी परिवार, समाज और राष्ट्र को जोड़ती है. साथ ही संस्कृति की संरचना को जीवित रखने में महत्वपूर्ण स्थान रखती है.

उन्होंने कहा कि बेटियों को कभी भी परायाधन नहीं समझना चाहिए. उन्हें शिक्षित कर आगे बढ़ाना चाहिए. शिक्षा द्वारा ही बेटियां रूढि़यों को तोड़कर सामाजिक परिवर्तन लाकर नजरिया बदलेंगी. सरस्वती बालिका विद्या मंदिर में विदाई समारोह का आयोजन किया गया.

इसमें कक्षा 12वीं में अध्ययनरत छात्राओं को विद्यालय से विदाई दी गई. रेखा जोशी ने छात्र-छात्राओं को बोर्ड परीक्षा संबंधी टिप्स दिए. डॉ. पीताबंर अवस्थी ने छात्राओं से विद्यालय का नाम रोशन करने की अपील की, साथ ही उन्हें सफलता हासिल करने के टिप्स भी दिए.