पासपोर्ट बनाने जा रहे हैं,तो जान लें यह बात …

पासपोर्ट बनने  कि प्रक्रिया में कुछ अहम बदलाव होने जा रहे हैं .फिजिकल पुलिस वेरिफिकेशन को खत्म कर पासपोर्ट के लिए ऑनलाइन पुलिस वेरिफिकेशन की जाएगी. इस सिस्टम के लागू होते ही वेरिफिकेशन भी ऑनलाइन ही हो जाएगा.इसके चलते पासपोर्ट बनने में पहले से कम समय लगेगा. इसके लिए देहरादून में पासपोर्ट कार्यालय जल्द ही एम-पासपोर्ट पुलिस ऐप शुरू करने जा रहा है.

बता दें,इससे पहले एम-पासपोर्ट पुलिस एप पटियाला में शुरू की जा चुकी है. इस एप के माध्यम से पुलिस वेरिफिकेशन ऑनलाइन होगा. यह कहा जा रहा है कि इस ऐप के माध्यम से लोग ऑनलाइन पुलिस वेरिफिकेशन के लिए आवेदन करेंगे. निर्धारित समय के अंदर, संबंधित पुलिस अधिकारी आवेदक के घर आकर जांच-पड़ताल कर फिंगर प्रिंट और फोटो को ऑनलाइन फीड करेंगे.

इस रिपोर्ट को इस एप के जरिए संबंधित अधिकारी के पास मंजूरी के लिए भेजा जाएगा.पासपोर्ट बनवाने के लिए ऑनलाइन पुलिस वेरिफिकेशन मान्य कर दी जाएगी. इस सुविधा से पुलिस वेरिफिकेशन 12 घंटे के अंदर पूरी हो जाएगी.ECR (इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड) कैटेगरी में आने वालों को नारंगी रंग के पासपोर्ट दिए जाएंगे. नॉन-ईसीआर को नीले पासपोर्ट ही दिए जाएंगे. पासपोर्ट कार्यालय की ओर से यह सेवा जल्दी शुरू की जाएगी.

इसके अलावा पासपोर्ट को अब लोग एड्रेस प्रूफ के तौर पर यूज नहीं कर सकेंगे. इसका आखिरी पन्ना जिसमें एड्रेस समेत लीगल गार्जियन का नाम, मां, पत्नी, पति का नाम और पुराने पासपोर्ट का नंबर आदि जानकारी दी जाती थी ,अब नए पासपोर्ट में नही होगा. ऐसे में एड्रेस प्रूफ के तौर पर अब पासपोर्ट काम नहीं आ सकेगा. जल्दी ही ये सुविधा भी लागू हो जाएगी.