केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लिया सीमा पर चौकियों का जायजा

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह नए साल का जश्न सीमा पर हिमवीरों के साथ ही मनाएंगे. दो दिवसीय दौरे के पहले दिन रविवार को वह भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आइटीबीपी) के शिविर मातली पहुंचें. यहां रात्रि विश्राम के बाद एक जनवरी को वह उत्तरकाशी से 120 किलोमीटर दूर नेलांग के लिए रवाना होंगे. इस दौरान वह सीमा पर चौकियों का जायजा भी लेंगे.केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह रविवार दोपहर दिल्ली से देहरादून स्थित जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे. यहां प्रशासन और भाजपा नेताओं ने उनकी आगवानी की.

इसके वह हेलीकॉप्टरसे उत्घ्तरकाशी के लिए रवाना हुए. शाम करीब ठीक 4.15 बजे राजनाथ बीएसएफ के हेलीकॉप्टर से आइटीबीपी के कैंप परिसर में बने हैलीपैड पर उतरे. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ आइटीबीपी के महानिदेशक आरके पंचानंद भी पहुंचे. आइटीबीपी के आइजी, डीआइजी व द्वितीय कमान अधिकारी ने केन्द्रीय गृह मंत्री का स्वागत किया.

उत्तराखंड में 345 किलोमीटर लंबी सीमा चीन से सटी है. इसमें करीब 122 किलोमीटर उत्तरकाशी जिले में पड़ती है. इसकी सुरक्षा का जिम्मा आइटीबीपी के 12वीं और 35वीं वाहिनी के हिमवीरों के पास है. उत्तरकाशी जिले की नेलांग घाटी में आइटीबीपी की दस चौकियां हैं. जो करीब 13 हजार से 16 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित हैं. जवानों में जबरदस्त उत्साह है. एक जनवरी को राजनाथ नेलांग, नागा और पीडीए की चौकियों का जायजा लेने के साथ ही वहां तैनात जवानों को नववर्ष की शुभकामनाएं देंगे।