दिल्ली-एनसीआर में न्यू ईयर से पहले घने कोहरे ने दी दस्तक, सभी उड़ानें रद

वर्ष 2017 के आखिरी दिन की सुबह घने कोहरे से लिपटी नजर आई. रविवार सुबह दिल्ली-एनसीआर में इस कदर घना कोहरा छाया हुआ था कि कई जगहों पर विजिबिलिटी जीरो नजर आई. आलम यह रहा कि वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा, वहीं कई इलाकों में वाहनों के आपस में भिड़ने की भी खबर है. वहीं, घने कोहरे का असर विमानों की उड़ानों पर भी पड़ा है. दिल्ली से सभी उड़ानें स्टैंडबाय पर हैं, कम दृश्यता के कारण फिलहाल कोई परिचालन नहीं किया जा रहा है. 10 विमानों के मार्ग में बदलाव किया गया है.

रेलवे के मुताबिक, तकरीबन तीन दर्जन ट्रेनें देरी से चल रही हैं.इससे पहले कोहरा पड़ने के आसार शनिवार शाम से ही नजर आने लगे थे और रविवार सुबह 6 बजे के बाद से ही कोहरा धीरे-धीरे बढ़ने लगा. सुबह सात बजे के आसपास कोहरा इतना घना हो गया कि विजिबिलिटी 50 मीटर से जीरो पर आ गई. सड़कों पर इतना घना कोहरा छाया रहा कि थोड़ी दूर पर पैदल आते लोग और वाहन तक दिखाई भी नहीं दे रहे थे.

मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर भारत में घने कोहरे व पछुआ हवाओं से सर्दी और बढ़ गई. खासकर उत्तर प्रदेश और बिहार में सुबह पुरवा हवाओं के साथ घना कोहरा छाया रहा. शीत लहर के प्रकोप के चलते लोग घरों में दुबके रहे. वहीं दिल्ली एनसीआर की बात करें तो यहां ठंड में थोड़ी कमी आई है और सुबह-सुबह यहां का न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रहा.