उत्तराखंड, हरियाणा, हिमाचल, केरल, गुजरात और सिक्किम खुले में शौच से मुक्त घोषित

सरकार ने बताया है कि देश में दिसंबर 2017 तक उत्तराखंड, गुजरात, हरियाणा, केरल, सिक्किम और हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित किया जा चुका है, जबकि बिहार का एक भी जिला अब तक ‘ओडीएफ’ घोषित नहीं हुआ है.

लोकसभा में पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री उमा भारती ने रवीन्द्र कुमार जेना के प्रश्न के उत्तर में बताया कि 22 दिसंबर 2017 तक देश के कुल 685 जिलों में 260 को खुले में शौच मुक्त घोषित किया जा चुका है, जबकि 425 जिले शेष हैं. मंत्री ने इस संबंध में ब्यौरा उपलब्ध कराया, जिसके मुताबिक गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, केरल, सिक्किम और उत्तराखंड के सभी जिलों को ओडीएफ घोषित कर दिया गया है.

उन्होंने बताया कि बिहार के कुल 38 जिलों में एक भी जिला अब तक ओडीएफ घोषित नहीं हुआ है. वहीं, पश्चिम बंगाल के कुल 22 जिलों में 10 को और उत्तर प्रदेश के कुल 75 जिलों में छह को अब तक ओडीएफ घोषित किया गया है.

उन्होंने बताया कि मंत्रालय द्वारा जारी स्वच्छ भारत मिशन दिशा निर्देशों के मुताबिक एक गांव आम सभा बैठक में एक पारदर्शी प्रक्रिया के जरिए खुद को खुले में शौच मुक्त घेाषित करता है. जहां गांव के नागरिक इस बात की पुष्टि करते हैं कि सभी परिवार शौचालय का इस्तेमाल करते हैं. अगला चरण इस ओडीएफ घोषणा के सत्यापन की प्रक्रिया है और घोषणा के 90 दिनों के अंदर यह होता है.