मैकडोनाल्ड्स के चाहने वालों के लिए आई ये खुशखबरी

मैकडोनाल्ड्स के पूर्व सहयोगी विक्रम बक्शी ने पूर्वी और उत्तर भारत में बंद हुए 84 आउटलेट में से 16 को फिर से शुरू होने की जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि नई लॉजिस्टिक कंपनी से सप्लाई सेवा लेने के बाद आउटलेट फिर शुरू हो गए हैं. हालांकि मैकडोनाल्ड्स ने फूड क्वालिटी व सेफ्टी में कमियों का आरोप लगाया है क्योंकि सप्लाई चेन में कई तरह की खामियां हैं.

सोमवार को बक्शी की अगुआई वाली सीपीआरएल को करीब 84 आउटलेट बंद करने पड़े थे. सीपीआरएल की लॉजिस्टिक सहयोगी राधाकृष्णा फूडलैंड ने कम मांग और भुगतान बकाया होने के कारण आपूर्ति रोक दी थी. बक्शी ने आपूर्ति शुरू करने के लिए नई लॉजिस्टिक फर्म से गठजोड़ किया है. उन्होंने कहा कि राधाकृष्णा फूडलैंड मैकडोनाल्ड्स के साथ मिलकर कारोबार को प्रभावित करना चाहती है. नियमित तौर पर कोई भुगतान शेष नहीं है.उन्होंने उम्मीद जताई कि हफ्ते भर में सभी आउटलेटों पर आपूर्ति सामान्य हो जाएगी और परिचालन शुरू हो जाएगा. इस बीच मैकडोनाल्ड्स ने नई व्यवस्था पर सवाल उठाया है.

मैकडोनाल्ड्स इंडिया ने कहा कि सीपीआरएल के नए वितरण केंद्र को कंपनी की ओर से मंजूरी नहीं दी गई है.सीपीआरएल के साथ फ्रैंचाइजी समझौता रद होने के बाद से कंपनी वहां जांच करने में सक्षम भी नहीं है. यह नहीं कहा जा सकता कि वहां उत्पाद मैकडोनाल्ड्स के खाद्य सुरक्षा और अन्य आपूर्ति मानकों पर खरे उतरते हैं या नहीं. कच्चे माल से लेकर आपूर्ति तक पूरी श्रृंखला में मानकों का पालन संदिग्ध है.