चीनी मीडिया भी हुआ मोदी भक्त

चीनी मीडिया ने भी भारतीय प्रधानमंत्री का लोहा माना है. चीन की समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने साल 2017 को राजनीति में ‘ब्रांड मोदी’ घोषित किया है. समाचार एजेंसी में मंगलवार को प्रकाशित एक लेख में ये बातें कहीं गईं हैं.

इसने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व का सराहना की है. हालांकि इसके साथ यह भी लिखा गया है कि भाजपा को वास्तविकता की जांच करने की जरुरत है. लेख ने ईयर एंडर टाइटल के साथ लिखा है, ‘मोदी वेव वर्क्स मैजिक फॉर इंडियाज रुलिंग बीजेपी इन 2017’.

भारत में मोदी लहर का उल्लेख करते हुए लेख में कहा गया, इस साल जितने भी राज्यों में चुनाव हुए हैं मोदी ने सभी जगह मास्टरस्ट्रोक से अपनी छाप छोड़ी है. राज्यसभा में मोदी सरकार की ताकत के बारे में यह भी कहा गया कि किस प्रकार से सारी चुनौतियों के बावजूद मोदी ने देश के बड़े राज्यों में जीत हासिल की है. दूसरी तरफ, यह कहा जा सकता है कि चीन भारत की इस जीत की तरफ बड़ी ही गहराई से नजर रख रहा है.

लेख में कहा गया है कि 2014 के बाद से 17 राज्यों के चुनाव में 9 राज्यों में जीत के पीछे मोदी का हाथ है. इसमें मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और गुजरात का भी उल्लेख किया गया. कहा कि, 2014 के लोकसभा के आम चुनाव में भाजपा की जीत के साथ ही मोदी लहर की शुरुआत हो गयी थी. नोटबंदी के बाद भी उत्तर प्रदेश में भाजपा की बड़ी जीत उनकी लोकप्रियता को दर्शाती है.

लेख में आगे कहा गया है कि मोदी को अपनी नीतियों के कारण विपक्षी पार्टी कांग्रेस की आलोचनाओं का भी काफी शिकार होना पड़ा इसके बावजूद भारत में लगातार मोदी मैजिक कायम रहा.

लेख में पीएम मोदी के अलावा हालिया चुनावों में अमित शाह की भूमिका का भी उल्लेख किया गया है. एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में भारत-चीन संबंधों के विशेषज्ञ शास्त्री रामचंद्र ने कहा, “यह दोनों देशों के बीच दृष्टिकोण प्रबंधन का एक कूटनीतिक तरीका है. “चीन एक तरफ डोकलाम पर नजर गड़ाए बैठा है. इसके अलावा, अब भूटान फिलिस्तीन के वोट पर बहुत खुश नहीं हैं.”