नये साल पर वोडाफ़ोन शुरू करेगा VoLTE सर्विस, एयरटेल और जियो को देगा कड़ी टक्कर

देश की बड़ी टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन इंडिया दिल्ली, मुंबई, गुजरात, कर्नाटक और कोलकाता में नये साल से वॉइस ओवर LTE (VoLTE) सर्विसेज शुरू कर रही है. अपनी इस सर्विस से वोडाफ़ोन नंबर वन कंपनी भारती एयरटेल और रिलायंस जियो को चुनौती देगी. इस वित्त वर्ष में ही कंपनी ने VoLTE सर्विसेज का विस्तार देश भर में करने की योजना बनाई है.

वोडाफोन इंडिया के सीईओ सुनील सूद ने बयान में बताया, ‘एचडी क्वॉलिटी कॉलिंग से VoLTE से कस्टमर एक्स्पीरियंस बेहतर होगा. यह हम भविष्य की टेक्नॉलजी की तरफ हमारा एक कदम है. हम इसके लिए अपने डेटा नेटवर्क का इस्तेमाल करेंगे.’ रिलायंस जियो अकेली कंपनी है, जो देश भर में VoLTE सर्विस ऑफर कर रही है. वह अब तक दावा करती आई है कि यह टेक्नॉलजी प्रतिद्वंद्वी कंपनियों की टेक्नॉलजी से अच्छी है.

VoLTE टेक्नॉलजी में फोन पर आवाज साफ सुनाई देती है. इसमें हाई डेफिनिशन कॉलिंग के जरिये आवाज आप तक पहुंचती है. इसी नेटवर्क का डेटा कैरी करने के लिए भी इस्तेमाल होता है.

जियो के बाद एयरटेल ने इस टेक्नॉलजी को अपनाया था. उसने मुंबई में सितंबर में VoLTE सर्विस लॉन्च की थी. मुंबई के अलावा एयरटेल महाराष्ट्र, गोवा, चेन्नई, गुजरात, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में VoLTE सर्विस दे रही है. उसने भी जल्द ही देश भर में इसका विस्तार करने की योजना बनाई है.

वोडाफोन इंडिया का आइडिया सेल्युलर में मर्जर भी होना है. वह देश भर में आइडिया के साथ अपने कामकाज को मर्ज कर रही है. आइडिया भी 2018 की शुरुआत में 4जी LTE नेटवर्क को लॉन्च करने की तैयारी कर रही है. उसने कई सर्किल में इसका ट्रायल पूरा कर लिया है. VoLTE सर्विस के जरिये दोनों कंपनियां मर्जर से पहले अपने-अपने सब्सक्राइबर बेस को बचाने की कोशिश कर रही हैं.

ऐनालिस्टों का कहना है कि उसके बाद इस नेटवर्क को 4जी डेटा सर्विस देने लायक बनाया जा सकता है. मोबाइल ब्रॉडबैंड की मांग बढ़ने के बीच इससे दोनों कंपनियों के पास अधिक स्पेक्ट्रम होगा. वोडाफोन ने कहा है कि उसने 1,40,000 साइट्स का एक दमदार डेटा स्ट्रॉन्ग नेटवर्क तैयार किया है. इससे कॉल क्वॉलिटी में सुधार होगा और कस्टमर्स के लिए मोबाइल इंटरनेट एक्स्पीरियंस बेहतर बनेगा.

ऐनालिस्टों का कहना है कि इंडस्ट्री में जबरदस्त प्राइस वॉर चल रही है. ऐसे में इनके लिए ऐसा करना जरूरी हो गया है. अभी वोडाफोन और आइडिया सर्किट स्विच टेक्नॉलजी का इस्तेमाल वॉइस सर्विस के लिए कर रही हैं, जबकि डेटा 4जी नेटवर्क पर ऑफर किया जा रहा है. दोनों कंपनियां वॉइस सर्विस 3जी या 2जी नेटवर्क पर दे रही हैं. VoLTE से वोडाफोन का 3जी और 2जी नेटवर्क फ्री हो जाएगा, जिसका इस्तेमाल अभी वॉइस सर्विस के लिए किया जा रहा है.