नववर्ष के जश्न के लिए पैक हुई पहाड़ों की रानी

नववर्ष के जश्न को पहाड़ों की रानी मसूरी पूरी तरह से सज चुकी है. क्रिसमस से ही यहां पर्यटकों की हुजूम उमड़ने लगा है. नतीजा, नगर के 350 होटलों में से बड़े एवं नामी होटलों की 90 फीसदी बुकिंग हो चुकी है. छोटे एवं मध्यम होटल और अतिथिगृहों की बुकिंग भी इन दिनों पीक पर चल रही है. पुलिस ने रात आठ बजे के बाद आने वाले वाहनों को बुकिंग संबंधी जानकारी देने के बाद ही कुठालगेट बैरियर से आगे जाने देने का निर्णय लिया है.

नववर्ष के जश्न को यादगार बनाने के लिए महानगरों के लोग हिल स्टेशनों को ज्यादा पसंद करते हैं. मैदानी क्षेत्रों में धुंध समेत अन्य तमाम समस्याओं को देखते हुए लोग नजदीकी एवं प्रसिद्ध हिल स्टेशनों का रुख करते हैं. इनमें पहाड़ों की रानी मसूरी व सरोवर नगरी नैनीताल का नाम सबसे ऊपर होता है.इस साल भी पहाड़ों की रानी के दीदार को पर्यटकों की डिमांड सबसे ज्यादा है.

पर्यटन, पुलिस और होटल एसोसिएशन से मिले इनपुट के आधार पर मसूरी के 350 होटलों में से 60 फीसद एडवांस में ऑनलाइन बुक हो चुके हैं. इनमें भी नामी एवं बड़े होटलों की बुकिंग तो 90 फीसद तक जा पहुंची है. बाकी होटलों की बुकिंग ‘पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर हो रही है. बुकिंग 30 दिसंबर तक जारी रहेगी.

मसूरी प्रशासन व होटल संचालकों की ओर से जश्न मनाने आने वालों पर किसी तरह की रोक नहीं लगाई गई है. मगर, पुलिस ने सुरक्षा एवं व्यवस्थाओं के मद्देनजर रात आठ बजे के बाद वाहनों को चेकिंग के बाद ही देहरादून से मसूरी भेजने की सलाह दी है. जिला साहसिक पर्यटन अधिकारी देहरादून सीमा नौटियाल ने बताया कि सभी होटल संचालकों को पर्यटकों के साथ आत्मीयता से पेश आने को कहा गया है. इसके अलावा पर्यटकों का पूरा ब्योरा दर्ज करते हुए उन्हें आसपास के पर्यटक स्थलों की जानकारी देने के भी निर्देश हैं.

भट्टा फॉल, माल रोड, लाइब्रेरी बाजार, कुलड़ी बाजार, चार दुकान, हाथीपांव, गन हिल रोपवे, जॉर्ज एवरेस्ट, कंपनी गार्डन, कैम्पटी फॉल, जमुना ब्रिज व धनोल्टी. एसपी ट्रैफिक धीरेंद्र गुज्याल ने बताया कि मसूरी में आने वाले पर्यटकों की संख्या और यातायात की स्थिति पर चौबीसों घंटे नजर रखी जा रही है. होटल एसोसिएशन से 31 दिसंबर और एक जनवरी की बुकिंग का रोजाना अपडेट लिया जा रहा है. मसूरी के पैक होने की स्थिति पैदा होते ही पर्यटकों के वाहनों को देहरादून में रोकना शुरू कर दिया जाएगा. सिर्फ पहले से बुकिंग कराने वालों को ही जाने की अनुमति होगी.