धर्मनिर्पेक्षता वादियों का मजाक उड़ा कर विवादों में घिरे केंद्रीय मंत्री हेगड़े

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े धर्मनिरपेक्ष लोगों को लेकर एक बड़ा बयान दिया है जिसके बाद एक नया विवाद खड़ा हो सकता है. खबरों के अनुसार हेगड़े ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हम संविधान बदलने आए हैं. उन्होंने धर्मनिरपेक्ष लोगों को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि सेक्युलरों को ही पता नहीं है उनका खून क्या है.

कोप्पल में उन्होंने कहा कि, ‘सेक्यूलरों को ही पता नहीं है कि उनकी जड़ें क्या हैं. संविधान ने हमें अधिकार दिया है कि हम कह सकें कि हम धर्मनिरपेक्ष हैं और हम यह कहेंगे. लेकिन संविधान में कई बार बदलाव हुए हैं और हम भी इसे बदलेंगे. हम सत्ता में इसी के लिए आए हैं.’

हेगड़े ने यह भी कहा कि ‘अगर आप कहते हैं कि आप मुस्लिम, ईसाई या किसी और धर्म के हैं, मुझे गर्व होगा कि आप अपनी जड़ें जानते हैं, लेकिन यह धर्मनिरपेक्ष लोग कौन हैं? उनकी तो कोई जड़ें ही नहीं हैं.

बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब हेगड़े ने इस तरह का कोई बयान दिया हो जिसमें विवाद हुआ हो. पिछले साल ईस्लाम को लेकर दिए गए बयान के मामले में उनके खिलाफ केस भी दर्ज हुआ था.