2G Case : आ रही है ए राजा की किताब, खुलेंगे कई राज

2जी केस पर पूर्व दूरसंचार मंत्री ए.राजा की पुस्तक जल्द ही जारी होने वाली है. पुस्तक में उन्होंने अपने उस दावे को दोहराया है कि उन्हें उन फैसलों के लिए जिम्मेदार ठहराया गया और बली का बकरा बनाया गया जो तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने मंजूर किए थे.

इस किताब का विमोचन 20 जनवरी तक किया जा सकता है. उनके मुताबिक, इस किताब में 200 से भी ज्यादा पन्नों में 2जी की अहम घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा पेश किया गया है. इस केस के चलते राजा को 15 महीने तिहाड़ जेल में रहना पड़ा था.

इस किताब के बारे में ए राजा ने 2015 में दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि इसमें गिरफ्तारी और ट्रायल की वजहों का खुलासा किया जाएगा. कहा जा रहा है कि ए राजा की इस किताब में 200 से भी ज्यादा पन्नें होंगे. इसमें 2जी की अहम घटनाओं का सिलसिलेवार तरीके से ब्योरा पेश किया जाने की संभावना है.

साल 2015 में दिए एक इंटरव्यू में ए राजा ने कहा था कि इस किताब में जेल में बिताए गए उनके दिनों और उन्हें जेल क्यों भेजा गया, इन सब बातों के बारे में बताएंगे.राजा के एक और सहयोगी ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया ‘पहले केस में अंतिम दलीलें पूरी होने के बाद किताब के लोकार्पण का फैसला किया गया.

हालांकि, हमने बाद में इसे टाल दिया, क्योंकि हम ऐसी किसी भी चीज में नहीं फंसना चाहते थे. इस किताबों में ए.राजा के राजनीतिक पतन से लेकर उनके केस के बारे में सारी जानकारियां दी जाएंगी. ए. राजा ने इस किताब को काफी मेहनत से लिखा है.

गौरतलब है कि 2जी घोटाले में दिल्ली की एक स्थानीय अदालत ने (21 दिसंबर) को सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. विशेष न्यायाधीश ओ.पी.सैनी ने पूर्व दूरसंचार मंत्री ए.राजा और डीएमके सांसद कनिमोझी सहित सभी आरोपियों को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दायर दोनों मामलों में बरी कर दिया.