नगर निकायों के परिसीमन के विरोध में कांग्रेस, आज फूंकेगी राज्य सरकार का पुतला

उत्तराखंड में विभिन्न नगर निगमों, नगर पालिका परिषदों तथा नगर पंचायतों में किए जा रहे परिसीमन के विरोध में सोमवार को प्रदेश कांग्रेस ने अस्थायी राजधानी देहरादून में एक दिवसीय धरना दिया. 30 दिसंबर तक राज्यभर में विरोध प्रदर्शन चलते रहेंगे. मंगलवार को देहरादून सहित जिला मुख्यालयों पर राज्य सरकार का पुतला फूंकने का भी कार्यक्रम है.

देहरादून के गांधी पार्क में धरने के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि राज्य की बीजेपी सरकार द्वारा नादिरशाही फरमान जारी कर नगर निकायों में मनमाने ढंग से किया जा रहा सीमा विस्तार तर्कसंगत नहीं है तथा इस मामले में कांग्रेस जनता के साथ खड़ी है और इस फैसले का कड़ा विरोध करती है.

नगर निकायों के सीमा विस्तार के पीछे सरकार की मंशा में खोट बताते हुए प्रीतम सिंह ने आरोप लगाया कि इसकी आड़ में ग्रामीण क्षेत्रों की कृषि भूमि को खुर्द-बुर्द करने का षड़यंत्र रचा जा रहा है.

उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी सरकार द्वारा नगर निकायों का सीमा विस्तार कर पंचायतों का अस्तित्व भी समाप्त किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पूर्व में किए गए सीमा विस्तार में नगर निकायों में शामिल हुए ग्रामीण क्षेत्रों में आज तक बुनियादी सुविधाओं का अभाव बना हुआ है. उन्होंने नए सीमा विस्तार से पहले राज्य सरकार को उन क्षेत्रों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने को कहा जिन्हें पूर्व में हुए सीमा विस्तार में नगर निकाय क्षेत्रों में शामिल किया गया था.

प्रीतम ने आरोप लगाया कि नगर निकायों के सीमा विस्तार के जन विरोधी निर्णय से पूर्व राज्य सरकार ने स्थानीय जनता और त्रिस्तरीय पंचायत जनप्रतिनिधियों की सहमति भी नहीं ली.

उन्होंने कहा, ‘हमें शंका है कि जिस प्रकार पूर्व में हुए सीमा विस्तार के बाद नगर निकाय क्षेत्रों में शामिल हुए गांवों की कृषि भूमि खुर्द-बुर्द की गई, उसी प्रकार अब एक बार फिर सीमा विस्तार कर कृषि भूमि को खुर्द-बुर्द किए जाने की साजिश की जा रही है और इसलिए कांग्रेस इसका पुरजोर विरोध करती है.’

उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी नगर निकायों के परिसीमन के विरोध में सोमवार से 30 दिसम्बर तक कार्यक्रम चलाएगी. इसके तहत मंगलवार को देहरादून सहित राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में राज्य सरकार का पुतला दहन किया जाएगा, जबकि 27 से 30 दिसम्बर तक देहरादून के गांधी पार्क में धरना दिया जाएगा.