दिसंबर 2017 के अंतिम सप्ताह में इन राशियों की बदलेगी किस्मत

दिसंबर 2017 का अंतिम सप्ताह कुछ राशियों के लिए बेहद खास रहने वाला है. इस सप्ताह सूर्य के राशि परिवर्तन से कई राशियों के लिए शुभ ही शुभ होने वाला है.

इसके अलावे शनि का सूर्य के साथ युति भी कई राशियों पर भी प्रभाव पड़ने वाला है. ज्योतिषी पंडित धनंजय पाण्डेय के अनुसार इस साल का अंतिम सप्ताह ये खास परिवर्तन लेन वाला है. आगे की स्लाइड्स में जानिए की खास होगा आपकी राशि के लिए

मेष-:

दिसंबर के अंतिम सप्ताह में इस राशि के जातक अपने सामाजिक संबंधों में आगे होंगे. इस अवधि में किए गए परिचाय लम्बे समय तक चलने वाले होंगे. साथ-साथ नए विचार और जिनका आप आनंद उठा सकें ऐसे अनुभव आपको समृद्ध करेंगे. काम पर, लापरवाही और तुच्छ निरर्थक गलतियाँ से सावधान रहें.

वृष-:

आपके लिए यह सप्ताह बहुत ही स्थिर सप्ताह है. खासकर जब धन की बात आती है, लम्बे समय की योजना के लिए अभी सबसे अच्छा समय है. दूसरी ओर वृष को पारिवारिक समस्याओं से सावधान होना चाहिए. किसी की कठिनाइयों में उसे मदद करके आप दुखी व्यक्ति का विश्वास हासिल कर सकते हैं.

मिथुन-:

यह सप्ताह नए संबंधों के साथ-साथ परिवार में भी खुशी लाएगी. आपको क्रिसमस के दौरान सबसे अधिक आनंदआएगा. इस अवधि में आप कई नए अनुभवों की अपेक्षा भी कर सकते हैं. आप एक व्यक्ति से मिलेंगे जो आपके व्यक्तित्व को नई जानकारी के साथ समृद्ध करेगा. आपको विभिन्न चीजों का एहसास होगा और एक बहुत परिपक्व व्यक्तित्व प्राप्त होगा.

कर्क-:

इस सप्ताह जो आपने सफलता पाई है, उचित है कि आप अपने आप पर गर्व करेंगे. बस इसे बहुत स्पष्ट न बनायें. आप कई ईर्ष्यावान व्यक्तियों से मिल सकते हैं जो आप का दुरुपयोग करने और वह नहीं तो कम से कम आपकी सफलता का हिस्सा चुराने का प्रयास करेंगे.

सिंह-:

दिसम्बर में आनंद लूटने से डरे नहीं. इस कठिन साल के बाद आप निश्चित रूप से इसके लायक हैं. उदाहरण के लिए अपने आप को असाधारण अनुभव का तोहफा दें. आपका मूड बेहतर होगा और वह शायद उस व्यक्ति द्वारा भी खराब नहीं किया जा सकता है जो बुरे इरादों के साथ आपके आस-पास दिखाई देगा. आप आसानी से उसका सामना करेंगे.

कन्या-:

दिसंबर के साथ आखिरकार आपके कैरियर में बदलाव करने का मौका आ जाएगा. सितारे अब अधिक स्थिर और सकारात्मक स्थिति में हैं और कन्या राशि के लोग काम के क्षेत्र में अच्छा करेंगे. समय बहुत तेजी से पसार होगा और बिना किसी खास प्रयास के आप आसानी से सभी कार्यों को अदा कर लेंगे और तत्काल समस्याओं के समाधान ढूंढेंगे. आप फिर से काम में रस लेने लगेंगे.

तुला-:

सभी कठिनाइयाँ जिनसे आपको इस साल मुकाबला करना पड़ा, उनके बावजूद भी, दिसंबर में आपको पता चलेगा कि आप खुश हैं और आपकी सभी समस्याओं के बावजूद भी जीवन सुंदर है. इस वर्ष ने वास्तव में तुला राशि को समृद्ध किया. सभी नकारात्मक अनुभवों के बुरे परिणाम ही नहीं मिलते है. इन स्थितियों के कारण आप बहुत सीखते हैं.

वृश्चिक-:

इस साल के आखिरी महीने – दिसंबर के साथ, आपको अपनी सब ऊर्जा को अपने करियर में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है. यह करियर की प्रगति या बोनस के रूप में प्रतिफल दे सकता है, विशेष रूप से सबसे मेहनती लोगों के लिए. इसके अलावा अपने आसपास अधिक ध्यान से देखना शुरू करें. वृश्चिकों को डेट के किसी भी आमंत्रण को मना कर देना चाहिए.

धनु-:

साल के अंत माह में दिसंबर आपके लिए शांति और सामंजस्य लाएगा. आपके पास थोड़ी देर आराम करने का समय होगा, एक गहरी सांस लें और पिछले वर्ष की समीक्षा करें. धनु ने अपने व्यक्तित्व के साथ एक बड़ी प्रगति की है. अब आप अधिक संतुलित हैं और तनाव से आसानी से निपट सकते हैं. अब कुछ भी आपके क्रिसमस को खराब नहीं कर सकता.

मकर-:

दिसंबर का आप पूरी तरह से और अन्य कोई विचारों के बिना आनंद ले सकते हैं. आपको पिछली घटनाओं पर देखने और उनकी समीक्षा करने का समय भी मिलेगा. क्या अच्छा था और आप क्या सुधार लाना चाहते हैं| आप इस अवधि के दौरान व्यक्तिगत रूप से परिपक्व होंगे और अपनी प्राथमिकताओं को सही रूप में निर्धारित करेंगे. मकरों के पीछे अब एक सफल वर्ष है.

कुंभ-:

इस सप्ताह जहाँ कुंभ राशि के कैरियर की बात करते है, इस वर्ष के अंत में एक स्थिर अवधि आएगी. बस छोटे दिनों और उबाऊ घटनाओं को आपके काम की गति को कम करने न दें. बहुत निष्क्रियता कभी भी अच्छी नहीं है|. दिसंबर में, आपको अपने स्वास्थ्य और प्रिवेन्शन के बारे में भी सोचना चाहिए. क्रिसमस के दौरान आप बीमार नहीं होना चाहते.

मीन-:

वे जो अभी तक अपने साथी से नहीं मिले हैं, दिसंबर में समाज में घूमने-मिलने के समय और फ्लर्टिंग करते हुए बहुत मज़ा ले सकते हैं. आपके जानने के बिना ही, आप विपरीत लिंगी को आकर्षित करेंगे और नए परिचित बनाना आपके लिए बहुत आसान होगा. इस कुंडली के अनुसार, आप अपने परिवार के साथ क्रिसमस का आनंद लेंगे.

साभार -हरिभूमि