उत्तर कोरिया के खतरे के मद्देनजर अपना रक्षा बजट बढ़ाएगा जापान

उत्तर कोरिया से खतरे को देखते हुए जापान अपनी सैन्य ताकत को मजबूत करने का प्रयास कर रहा है. इसके तहत, जापान ने अब अपने रक्षा बजट को बढ़ाने का फैसला किया है .अगले वित्त वर्ष में जापान अपना रक्षा बजट बढ़ाकर इसे 46 अरब डॉलर करेगा.जापान सरकार ने आज यह जानकारी दी.यह लगातार छठा वर्ष होगा जब जापान अपने रक्षा बजट को बढ़ाने जा रहा है.

गौरतलब है कि दो दिन पहले यह बताया गया था कि जापान अपनी मिसाइल प्रणाली को और मजबूत करने जा रहा है. मंगलवार को, जापानी सरकार ने सेना में शामिल होने के लिए अमेरिकी सेना की आधार वाली एजिस मिसाइल इंटरसेप्टर सिस्टम को मंजूरी दे दी.जापान सरकार का मानना है कि मौजूदा हालात को देखकर ,उन्हें मिसाइल सुरक्षा में भारी सुधार की जरूरत है.

माना जा रहा है कि रक्षा बजट में बढ़ोतरी मिसाइल सुरक्षा को मजबूत करने के लिए ही कि जा रही है. बता दें कि जापान अमेरिकी कंपनियों से 900 किलोमीटर की रेंज वाली क्रूज मिसाइलें खरीदने की भी योजना बना रहा है. उत्तर कोरिया के रवैये के मद्देनजर जापान यह सब अभ्यास कर रहा है.गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने इस साल दो मिसाइलें ऐसे दागीं जो जापान के ऊपर से हो कर गई थीं.

उत्तर कोरिया जापान को समुद्र में डूबो देने की धमकी भी दे चुका है. संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों और चेतावनियों से उत्तर कोरिया पर कोई असर नहीं पड़ा है. कई अवसरों पर, उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका को सीधे चुनौती दी है .उत्तर कोरिया का कहना है कि कोई भी उसे परमाणु और मिसाइल परीक्षण करने से नहीं रोक सकता है.