क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने वालो को लगा तगड़ा झटका

क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन में निवेश करने वालों के लिए बुरी खबर है,दिसंबर की शुरुआत में लोगों को बंपर कमाई करवाने वाला बिटकॉइन महीने के आखिर में निवेशकों को तगड़ा झटका दे गया.दरअसल बिटकॉइन की कीमत में पांच दिनों से भारी गिरावट देखने को मिल रही है.जानकारी के मुताबिक बिटकॉइन 20 हजार डॉलर (12.80 लाख रुपये) के रिकॉर्ड स्तर से 30 फीसद गिरकर 14 हजार डॉलर (8.96 लाख रुपये) के नीचे आ गया है.

बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी (क्रिप्टोकरेंसी) जैसी है जिसे एक ऑनलाइन एक्सचेंज के माध्यम से कोई भी खरीद सकता है. इसकी खरीद-फरोख्त से फायदा लेने के अलावा भुगतान के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. इसके जरिए बिना बैंक को माध्‍यम बनाए लेन-देन किया जा सकता है. हालांकि भारत में इस मुद्रा को न तो आधिकारिक अनुमति है और न ही इसे रेग्युलेट करने का कोई नियम बना है. बिटकॉइन एक ऐसी वर्चुअल करेंसी (आभासी मुद्रा) है जो कि तेज उतार-चढ़ाव के लिए जानी जाती है.साल 2017 की शुरुआत में बिटकॉइन 1000 डॉलर के करीब थी.

विशाल सीएमई ग्रुप द्वारा बिटकॉइन मूल्य इंडेक्स लॉन्च करने के बाद रविवार को 19, 666 डॉलर के उच्च स्तर पर पहुंच गया था.इसके बाद से यह करीब एक तिहाई वैल्यू खो चुका है. यह जल्द ही $ 20,000 का स्तर भी छू लिया .हालांकि, अब यह 14,000 डॉलर से नीचे गिर गया है.नवंबर में, यह चार दिनों के भीतर 30 प्रतिशत गिरा और 7,888 डॉलर के स्तर से 5,555 डॉलर तक आ गया. सितंबर में यह 40 प्रतिशत गिर गया था.

टोक्यो में मोनेक्स सिक्यॉरिटीज के मुख्य रणनीतिकार तकाशी हिरोकी कहते हैं, ‘बिटकॉइन में निवेश जुआ खेलने जैसा ही है, इसलिए इसका मूवमेंट तर्कसंगत पैटर्न को फॉलो नहीं कर सकता है. इस विषय में हालाँकि विशेषज्ञों का कहना है कि चूँकि यह साल ख़त्म हो रहा है, बिटकॉइन की कीमतों में और उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है. इसका कारण यह है कि निवेशक इस समय बड़ी मात्रा में पैसे निकालेंगे और लगायेंगे. हालाँकि जनवरी के महीने में कुछ संतुलन देखने को मिल सकता है.