नैनीताल प्रशासन सजग, क्रिसमस और नए साल में यह रहेगा रूट प्लान

क्रिसमस एवं थर्टीफस्ट में पर्यटकों की अधिक आमद को दूष्टिगत रखते हुये शहर में नया ट्रैफिक प्लान बनाया गया है. शुक्रवार को यहां पुलिस लाईन में जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में पर्यटन से जुड़े संगठनों द्वारा प्रतिभाग किया गया.

जिलाधिकारी ने कहा कि ट्रैफिक में पर्यटकों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े इसके लिये निर्धारित पार्किंग रूसी बैन्ड, सरिताताल, में बड़े वाहन खड़े किये जायेंगे जहां से पर्यटकों को शटल सेवा से शहर तक लाया जायेगा. उन्होंने कहा कि नैनीताल शहर की क्षमता के अनुसार ही पर्यटकों व वाहनों को प्रवेश दिया जायेगा, बाकी वाहन व पर्यटकों को कालाढूंगी, रानीबाग व भवाली में रोक दिया जायेगा ताकि नैनीताल शहर में अनावश्यक जाम की स्थिति ना बने.

जिलाधिकारी चौधरी ने कहा कि यदि नैनीताल शहर में होटल, पार्किंग में जगह हो व जाम की स्थिति ना बनी हो तो सभी पर्यटको को नैनीताल में जगह दी जायेगी. उन्होने कहा कि चीना बाबा मंदिर से मोहन को चैराहे तक दुकान से बाहर अनावश्यरूप से सामान ना लगाया जाय, जिससे यातायात प्रभावित हो. उन्होंने कहा कि बैठक में आये सभी संगठनों से आये अच्छे सुझावों को नये ट्रैफिक प्लान में सहमति पर जोड़ा जायेगा.

उन्होंने कहा कि क्रिसमस व थर्टीफस्ट जश्न में पर्यटक आनन्द उठायें, हुडदंग कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी. हुडदंग करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी. उन्होंने कहा कि मदिरा पान कर वाहन चलाने पर पुलिस प्रशासन की कड़ी नजर रहेगी, शराब पीकर वाहन चलाने पाये जाने पर परमिट के साथ ही ड्राइविंग लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्यवाही की जायेगी. जिलाधिकारी ने कहा कि मा0 उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार रात्रि 10 बजे तक ही डीजे आदि बजाया जायेगा. जिलाधिकारी ने सभी से सहयोग की अपील की.

अपर पुलिस अधीक्षक हरीश चन्द्र सती ने कहा कि हुडदंगियों के खिलाफ तत्काल कार्यवाही की जायेगी. उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले पर्यटकों से मित्रवत व्यवहार किया जायेगा. उन्होंने कहा कि बड़े वाहनों को नैनीताल नगर में कतई प्रवेश नहीं दिया जायेगा. उन्होंने पुलिस अधिकारियों व कर्मियों को निर्देश दिये कि वे पर्यटकों के साथ मधुर व्यवहार रखते हुये अतिथि देवा भवः की परम्परा को बनाये रखेंगे.

जाम की स्थिति ना बने इसके लिये ट्रैफिक पुलिस के साथ ही नियमित पुलिस प्रातः से देर रात तक गश्त में अनिवार्य रूप से रहेंगे. कर्तव्य निर्वहन में लापरवाही पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही भी की जायेगी. उन्होंने कहा थर्टीफस्ट की रात नैनीताल, भीमताल, भवाली सहित अन्य पर्वतीय मार्गो में वाहनों का आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंधित रहेगा. उन्होंने कहा कि शहर के किसी भी सड़क किनारे वाहनों को पार्क नही होने दिया जायेगा.

बैठक में आरटीओ राजीव महरा, संयुक्त मजिस्ट्रेट अभिषेक रोहिला, ईओ रोहिताश शर्मा, कैंट सीईओ अभिषेक राठौर, सीओ विजय थापा, एसओ प्रमोद पाठक, होटल एसोसियेशन अध्यक्ष दिनेश लाल साह, बेद साह, कमलेश ढौंढियाल, किसन सिंह नेगी, भुवन लाल साह, हारून खान पम्मी, भानु पंत, गंगा बिष्ट, सुभाष चन्द्रा, प्रदीप जेटली, जीवन बिष्ट, जीवन पालीवाल, मनीष सक्सेना, नजर अली, नरेश गुप्ता, राजेन्द्र रावत, ओमवीर सिंह, नरेन्द्र गुप्ता, महावीर सिंह, प्रमोद कुमार भट्ट, युसूफ खान,विजय सिंह, मोहन बाराकोटी, सुशील डालाकोटी, मोहन राम आर्य, नीरज अधिकारी, गोबिन्द सिंह, गणेश कुमार, सहित पर्यटन से जुड़े संगठनों नाव, रिक्शा, टैक्सी के लोग मौजूद थे.