घोटाले में लिप्त कर्मचारियों की मांग को लेकर फूंका पुतला

नगर निगम में हुए होटल टैक्स के एक करोड़ के घोटाले में लिप्त कर्मचारियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर कुर्मी महासभा के कार्यकर्ताओं ने निगम प्रशासन का पुतला फूंका. उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपियों को नगर आयुक्त का पूर्ण संरक्षण प्राप्त है, इसलिए नगर आयुक्त जानबूझ कर इस मामले में दोषी कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई न करके उनका बचाव कर रहे हैं.

कुर्मी महासभा के अध्यक्ष सौरभ गंगवार के नेतृत्व में निगम प्रशासन का पुतला फूंकते हुए आरोप लगाया कि नगर निगम के दो कर्मचारियों ने होटल टैक्स में एक करोड रुपये हजम कर लिए गए. सूचना अधिकार अधिनियम से प्राप्त जानकारी के बाद केपी गंगवार द्वारा इस मामले की जांच की मांग की गई. मंडलायुक्त नैनीताल द्वारा भी नगर आयुक्त को मामले की जांच के आदेश दिए गए, परंतु नगर आयुक्त ने मामले को दबाए रखा.

कुर्मी महासभा द्वारा 18 दिसंबर को इस मामले में जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया, लेकिन फिर भी नगर आयुक्त द्वारा दोषी कर्मचारियों को संरक्षक देते हुए मामले की जांच तक शुरु नहीं की गई है. कुर्मी महासभा पूरे मामले में नगर आयुक्त व दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर उग्र आंदोलन करेगी. यदि फिर भी कार्रवाई नहीं हुई, तो संगठन नगर आयुक्त के खिलाफ उच्च न्यायालय की शरण लेगा.

पुतला फूंकने वालों में महेंद्र गंगवार, देवरतन गंगवार, आकाश गंगवार, भूरा, मनोहर लाल गंगवार, ओम प्रकाश गंगवार, सियाराम गंगवार, माया देवी गंगवार, रामचंद्र गंगवार, भगवान सिंह, पिंकी, रूप चंद्र, नंदू गंगवार, भूपेंद्र, अमन गंगवार, मनीश गंगवार, आकाश गंगवार केपी गंगवार आदि थे.