राजद के बिहार बंद ने ली महिला की जान, जदयू ने किया वार

बालू और गिट्टी संकट के विरोध में राजद का आज बिहार बंद है. बिहार बंद को लेकर बिहार में राजनीति भी गरमा गई है. जदयू ने कहा है कि बेवजह लोगों को परेशान करने के लिए बंद किया गया है, वहीं बंद की वजह से राज्य में कई जगह भयंकर जाम लगा है और हाजीपुर से पटना आने के क्रम में एक महिला मरीज की रास्ते में ही मौत हो गई है.

पटना में तेजस्वी के नेतृत्व में राजद कार्यकर्ताओं का काफिला पटना के डाकबंगला चौराहे को कूच कर गया है. राजद नेता तेजस्वी का कहना है कि बालू और गिट्टी पर सरकार की नीति स्पष्ट नहीं है और हम उनके बार-बार नीति में परिवर्तन का विरोध करते हैं. उन्होंने कहा कि कोई भी कार्यकर्ता हुड़दंग नहीं मचाएगा. बंद में आमजन का पूरा ख्याल रखा जाएगा.

जदयू नेता नीरज कुमार ने कहा कि राजद बिहार की छवि खराब करने में लगे हैं, लेकिन किसी को भी एेसा खिलवाड़ नहीं करने देंगे. लोगों को सोचना चाहिए कि अभी प्रकाशोत्सव पर्व का शुकराना समारोह चल रहा है जिसमें देश-विदेश से श्रद्धालु बिहार आ रहे हैं और उनकी परेशानी को समझने के बजाय राजद बिहार को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है.

वहीं राजद नेता रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि बिहार सरकार गरीब मजदूरों के पेट पर लात मार रही है, बालू और गिट्टी संकट का सीधा असर गरीब लोगों पर पड़ रहा है. उन्होंने बताया कि आज के बंद में लालू यादव घर में ही रहकर बंद की जानकारी लेते रहेंगे और बंद की अगुवाई तेजस्वी यादव करेंगे.