हजारों की भीड़ में 10 लोगों को दी गई फांसी

दक्षिण चीन के एक स्पोर्ट्स स्टेडियम में सार्वजनिक ट्रायल के बाद 10 व्यक्तियों को फांसी पर लटका दिया गया. इस दौरान हजारों लोग स्टेडियम में मौजूद थे. ये सभी व्यक्ति कथित तौर पर नशीले पदार्थों की तस्करी, बिक्री, हत्या और डकैती जैसे अपराधों में लिप्त थे.

दक्षिण गुआंगडोंग स्थित स्पोर्ट्स स्टेडियम में 12 व्यक्तियों के खिलाफ सार्वजनिक मुकदमा चलाया गया. सभी संदिग्ध अपराधियों को पुलिस ने बख्तरबंद गाड़ी से स्टेडियम लेकर आई. इसके बाद ट्रायल के दौरान दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद 10 व्यक्तियों को फांसी की सजा सुनाई गई और उन्हें हजारों लोगों की मौजूदगी में सार्वजनिक तौर पर स्टेडियम में ही फांसी पर लटका दिया गया. जबकि दो व्यक्तियों को सबूत के अभाव में छोड़ दिया गया.

शनिवार को गुआंगडोंग स्पोर्ट्स स्टेडियम में इस सार्वजनिक मुकदमे और फांसी की ऑनलाइन वीडियो जारी की गई है. लुफेंग शहर पीपुल्स अदालत ने पिछले हफ्ते ही सार्वजनिक घोषणा कर नागरिकों को ‘ओपन-एयर स्टेडियम ट्रायल’ में बैठने के लिए आमंत्रित किया गया था.

ट्रायल की वीडियो जारी होने के बाद सोशल मीडिया में अदालत की इस कार्यवाही की आलोचना की जा रही है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लुफेंग में 2015 में भी नशीली पदार्थों की तस्करी को लेकर ओपन एयर ट्रायल का आयोजन किया गया था. तब इस ट्रायल के 10000 लोग गवाह बने थे. यह शहर देश का मेथामफेटामाइन का सबसे बड़े उत्पादक शहरों में से एक है.