देश के निवेशकों के बिटकॉइन में करोड़ों फंसे

देश में बिटकॉइन को लेकर मची खींचतान के बीच गाजियाबाद के लोग भी परेशान हो गए हैं. बिटकॉइन में पैसा लगाने वाले लोगों का कहना है कि बीते कुछ दिनों से उनका रिटर्न आना बंद हो गया. कुछ लोगों के खाते ब्लॉक हो गए हैं तो कुछ के बिटकॉइन कम कर दिए गए हैं. हालांकि इस मामले में पुलिस से अभी कोई शिकायत नहीं की गई है.

एक उपभोक्ता ने बताया कि गाजियाबाद समेत दिल्ली एनसीआर के कई लोगों ने हैदराबाद की एक एक्सचेंज से बिटकॉइन में पैसा लगाया था. बीते कुछ दिनों से रिटर्न बंद कर दिया गया. कई लोग अपने खाते भी नहीं खोल पा रहे हैं, जबकि कुछ के बिटकॉइन दूसरे खातों में ट्रांसफर कर दिए गए हैं. एक दिन वेबसाइट भी नहीं खुल रही है.

गाजियाबाद के रहने वाले फाइनैंस कन्सल्टेंट अनुज ने भी हैदराबाद की कंपनी से बिटकॉइन लिए थे. उन्होंने बताया कि उनके डिजिटल वॉलिट में करीब छह लाख अस्सी हजार रुपये कीमत के बिटकॉइन थे. 9 दिसंबर को उन्होने 3 लाख 80 हजार रुपये के बिटकॉइन बेच कर अपने खाते में रुपये ट्रांसफर करने चाहे तो रकम नहीं आई. इसके बाद वेबसाइट चेक की तो वह भी बंद मिली. इसके बाद उन्होंने अपने साथियों को बताया.

दिल्ली-एनसीआर के उपभोक्ताओं ने इसके लिए एक वाट्सएप ग्रुप भी बनाया है. हालांकि गाजियाबाद में इस संबंध में कोई शिकायत का मामला सामने नहीं आया है. सूत्रों की माने तो उपभोक्ता फिलहाल इंतजार कर रहे हैं. यदि जल्द उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ तो साइबर सेल से या हैदराबाद जाकर शिकायत कर सकते हैं.