विजय दिवस : रक्षा मंत्री सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने 1971 के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

16 दिसम्बर यानि विजय दिवस का दिन, शहीदों को याद करने का दिन जिन्होंने 1971 की लड़ाई में अपनी जान की परवाह ना करते हुए ,पाकिस्तान को युद्ध में परास्त किया, जिसके बाद पूर्वी पाकिस्तान आजाद हो गया था, जो आज बांग्लादेश के नाम से जाना जाता है.

हर साल 16 दिसंबर को विजय दिवस मनाया जाता है,इस साल भी इस मौके पर 1971 की लड़ाई में जान गंवाने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि दी गई, इसके लिए दिल्ली और मुंबई में अलग-अलग जगह कार्यक्रम हुए.

दिल्ली में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सेना के चीफ जनरल बिपिन रावत, नौसेना प्रमुख सुनील लांबा और एयर चीफ मार्शल बिरेंद्र सिंह धनोहा उपस्थित थे और मुंबई में आयोजित कार्यक्रम में सेना के कई अधिकारियों और जवानों ने भाग लिया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विजय दिवस के अवसर पर शहीदों को याद करते हुए कहा, ‘1971 के युद्ध में देश की और मानवीय स्वतंत्रता के सार्वभौमिक मूल्यों की रक्षा करने के लिए अपनी सशस्‍त्र सेनाओं को हम कृतज्ञता के साथ याद करते हैं. विशेषकर उस साहसिक अभियान में बलिदान हो गए सैनिकों के प्रति हम श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं.’