CM त्रिवेंद्र रावत ने सिडकुल घोटाले की जांच के आदेश दिए, ठेकेदारों के भुगतान पर रोक

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत-फाइल फोटो

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उधमसिंह नगर जिले के सितारगंज और काशीपुर में औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने में करोड़ों रुपये की कथित अनियमितताओं की विस्तृत जांच के आदेश शुक्रवार को मुख्य सचिव को दिए.

मुख्यमंत्री ने अस्थायी राजधानी देहरादून संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने सिडकुल में अनियमिताओं की व्यापक जांच के लिए मुख्य सचिव को जांच कमेटी बनाकर निष्पक्ष जांच करने के निर्देश दिए हैं.

त्रिवेंद्र ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति पर चल रही है और किसी भी तरह के भ्रष्टाचार का समूल नाश किया जाएगा. उन्होंने कहा कि जांच में दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों और व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

सितारगंज और काशीपुर औद्योगिक स्थानों को विकसित करने में बड़े पैमाने पर गड़बड़ियों की शिकायतें मिल रही थीं, जिसके बाद प्राथमिक जांच में करोडों रुपये का भ्रष्टाचार होने की बात सामने आई है.

आरोप लगाया जा रहा है कि करोडों रुपये खर्च करने के बाद भी इन औद्योगिक क्षेत्रों में न तो कोई काम हुआ और न ही वहां सिडकुल एक भी प्लॉट बेच पाया. अनियमितताओं का खुलासा होने के बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर ठेकेदारों के बकाया भुगतान पर रोक लगा दी गई है.