यूपी के सीतापुर जिले में सड़क पर जिंदा जले दो लोग, मौत

यूपी के सीतापुर जिले में दो लोगो कि सड़क पर गिरे हाईटेंशन तार की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई. और उनके साथ में एक बालिका जोकि गंभीर रूप से घायल हो गई. बिजली के तार की चपेट में आने से एक किसान की दस बीघे गन्ने की फसल भी जल कर राख हो गई. जानकारी मिलने पर थाना पुलिस सहित विभागीय अधिकारी मौके पर घटना स्थल पर पहुंचे.

इस घटना कि सुचना पास के पुलिस को दी गई. जबकि बिजली विभाग के जिन कर्मचारियों पर ये जिम्मेदारी थी उनके फोन बंद होने के चलते आपूर्ति देर तक चालू रही, जिससे कई किसानों की फसल भी जल कर राख हो गई. सूचना मिलने पर पहुंचे थानाध्यक्ष पिसावां जयशंकर सिंह ने मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कार्रवाई की.

घटना के एक घंटे बाद भी बिजली विभाग का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा. बिजली विभाग की कार्यशैली को लेकर ग्रामीणों ने गंभीर आरोप लगाए.

हरदोई जनपद के थाना हरयावां के गांव देवरिया शाहपुर निवासी छेदीलाल अपने भतीजे प्रमोद पुत्र चंदर (22 वर्ष), गोलू (तीन वर्ष) पुत्र सुनील व परिवार की ही बालिका प्रियांशी के साथ पिसावां थानाक्षेत्र के गांव छोटी हरनी स्थित रिश्तेदारी में आए थे. मंगलवार दोपहर लगभग दो बजे वापस जाते समय गांव ढखिया कला के पास हाईटेंशन लाइन का तार टूटकर इनकी मोटरसाइकिल पर गिर गया.

तार गिरते ही बाइक सवार धू-धूकर जलने लगे. प्रमोद व गोलू की मौके पर ही मौत हो गई. मोटरसाइकिल से छिटक कर दूर जा गिरे छेदीलाल व बालिका प्रियांशी गंभीर रूप से घायल हो गई. तार गिरने की जानकारी पर आसपास गांवों के ग्रामीण मौके पर जमा हो गए.