ऐसे करे शनिदेव को खुश, और पाए सौभग्य-समृद्धि का वरदान

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिदेव को न्याय का पद दिया गया है. शनिदेव को खुश करने के लिए शास्त्रों में कई उपाय बताए गए हैं. ऐसा माना जाता है कि मनुष्य के हर अच्छे-बुरे कर्मों का फल शनिदेव देते ही हैं.

इसलिए शनि की ढैया लगते ही व्यक्ति के अच्छे या बुरे दिन शुरू हो जाते हैं. साथ ही जिसके जैसे कर्म होते हैं उसे वैसा ही फल मिलता है. शनिदेव को यदि प्रसन्न कर लिया जाए तो व्यक्ति के समस्त कष्ट दूर हो जाते हैं.

आज हम आपको ऐसे ही कुछ उपाय बता रहे हैं जिसे करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं. खासकर यह उपाय शनिवार को विशेष लाभदायक होता है.

• शनिवार की सुबह स्नान आदि से निवृत होकर शनिदेव का पूजन करें. इसके बाद काले तिल मिलाए हुए सरसों के तेल से अभिषेक करें. फिर शनिदेव के 108 नामों का स्मरण कर शनिदेव से अपने कष्ट दूर करने की प्रार्थना करें.ऐसा करने से बड़ी से बड़ी बाधा और कष्ट दूर हो जाते हैं। इसके अलावे मनचाही इच्छा पूरी होती है.

• शनिवार के दिन स्नान कर स्वच्छ कपड़े पहने और इसके बाद पीपल के जड़ में केसर, चंदन, अक्षत और फूल मिलकर जल अर्पण करें। फिर तिल के तेल का दीपक जलाएं. इसके बाद पीपल की परिक्रमा करें.

• शनिवार को हनुमान जी की पूजा कर उन्हें चमेली के तेल में सिंदूर मिलाकर चोला चढाएं. साथ ही लाल गुलाब का फूल अर्पित करें. ऐसा करने से शनि के सभी दोषों का निदान हो जाता है.

• घर या किसी मंदिर के आसपास जहां चीटियों का बिल दिखाए दे, वहां चीटियों के आटा और शक्कर डालें. इससे जल्द ही समस्या का समाधान हो जाता है.

• उड़द की डाल का आटा बनाएं और फिर इसे छोटे-छोटे गोलाकार बनाकर मछली को खिलाएं.