संयुक्त राष्ट्र मिशन पर अब तक का सबसे बड़ा हमला, 15 शांति सैनिकों की मौत

डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो में संयुक्त राष्ट्र मिशन पर किए गए अब तक के सबसे भीषण हमले में 15 शांति सैनिकों की मौत हो गई है, जबकि 53 घायल हो गए. विद्रोहियों ने संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों के बेस (संचालन केंद्र) पर हमला किया.

न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र के उप प्रवक्ता फरहान हक ने बताया कि शांति सैनिक अधिकतर तंजानिया के थे. उनके अनुसार, क्षेत्र के सबसे खूंखार विद्रोही संगठन ने हमले को अंजाम दिया है. हमले में कांगो के कम से कम 5 सैनिक भी मारे गए हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतेरस ने हमले को ‘युद्ध अपराध’ करार दिया है. गुतेरस ने कांगो के अधिकारियों से घटना की तुरंत जांच करने का आग्रह किया है. शांति सैनिकों का यह संचालन केंद्र बेनी कस्बे से करीब 45 किलोमीटर दूर स्थित है. बेली में विद्रोही संगठन एलाइड डेमोक्रेटिक फोर्सेज के लड़ाके अक्सर हमला करते रहते हैं.