ED का लालू परिवार को झटका, जब्त की 44.7 करोड़ की संपत्ति

ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने लालू परिवार को करारा झटका दिया है और पहली बार उनके खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. ईडी ने राबड़ी, तेजप्रताप और तेजस्वी यादव के लारा प्रोजेक्ट की तीन एकड़ की संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया है. आपको बता दें कि लालू परिवार की इस संपत्ति की कीमत 44.7 करोड़ रुपये बताई जा रही है.

ईडी ने लालू परिवार से बेनामी संपत्ति मामले में पूछताछ की थी और उसके बाद पहली बार संपत्ति की कुर्की का आदेश दिया है. बता दें कि तेजस्वी और राबड़ी देवी से ईडी ने अलग-अलग पूछताछ की थी. तेजस्वी से दिल्ली में और राबड़ी से पटना में पूछताछ की गई थी.मिली जानकारी के मुताबिक यह कार्रवाई रेलवे होटल टेंडर घोटाला मामले से जुड़ी हुई है. इस मामले में ईडी ने बहुत बार समन जारी किया है और लालू यादव के परिवार से अलग-अलग पूछताछ भी की गई थी.

इससे पूर्व, आयकर विभाग ने भी बेनामी संपत्ति मामले में लालू प्रसाद यादव के परिवार के छह सदस्यों पर बेनामी एक्ट के तहत कार्रवाई की थी. छह सदस्यों में तेजस्वी यादव और लालू की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती, लालू की पत्नी राबड़ी देवी शामिल थीं.आयकर विभाग ने लालू की पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव, बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेश, बेटी रागिनी और बेटी चंदा की संपत्ति जब्त करने का नोटिस जारी किया था.

गौरतलब है कि ईडी के द्वारा बार-बार नोटिस जारी करने के बाद भी राबड़ी देवी उपस्थित नहीं हो रही थीं, जिसके चलते पिछले हफ्ते ईडी की टीम ने पटना आकर राबड़ी देवी से पूछताछ की थी.साथ ही पूर्व में इस मामले में भारती और अन्य लोगों से जुड़े चार्टर्ड अकाउंटेंट राजेश कुमार अग्रवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने 22 मई को गिरफ्तार किया था.