बियर हो सकता है पेट्रोल का विकल्प : ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी

यूके की ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी में शोधकर्ताओें ने रिसर्च के नतीजों के आधार पर कहा कि शराब में पाया जाने वाला ईथेनॉल (ethanol) पेट्रोल के विकल्प के रूप में काम में नहीं लाया जा सकता. लेकिन अगर इस रसायन को प्रोसेस करके ब्यूटेनॉल (Butanol) में बदल दिया जाए तो वो ईंधन के रूप में आसानी से प्रयोग में लाया जा सकता है. इस रिसर्च से जुड़े एक प्रोफेसर ने कहा, ‘शराब में पाया जाने वाला एल्कोहोल असल में उसी तरह का ईथेनॉल होता है जिससे ब्यूटेनॉल बनाकर पेट्रोल की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है.’

रिसर्चरों ने पाया कि तमाम तरह की शराब में से बीयर ही वो सबसे उपयुक्त चीज है जिसे ब्यूटेनॉल में तब्दील कर कारखानों में इस्तेमाल होने वाला ईंधन बनाया जा सकता है. वैज्ञानिकों ने कहा कि हम ये नहीं कह रहे हैं बीयर को ही पेट्रोल की जगह ई्ंधन के रूप में प्रयोग किया जाएगा. बीयर में पाए जाने वाले ईथेनॉल से ऐसा कैमिकल तैयार किया जाएगा जो बीयर के मॉलीक्यूलर नमूने से मिलता-जुलता होगा और उसे फैक्ट्रियों में मशीनें चलाने के लिए ईंधन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकेगा.

वैज्ञानिकों ने एक ऐसा तरीका खोज निकाला है जिससे बीयर को पेट्रोल की जगह इस्तेमाल किया जा सकेगा. वैज्ञानिकों ने शोध के आधार पर कहा है कि ईंधन के लिए पेट्रोल का सबसे बेहतर विकल्प बायोईथेनॉल (bioethanol) हो सकता है, जिसे तैयार करने में ‘बीयर’ सबसे उपयोगी चीज साबित होगी. हालांकि इस पूरी प्रक्रिया को सफल होने में पांच साल लग सकते हैं. लेकिन अगर ये सफल हो जाता है को आसानी से मिलने वाली बीयर, पेट्रोल के एक बढ़िया विकल्प बन सकती है.