रुद्रपुर : पुलिसकर्मियों के लिए लाइब्रेरी का हुआ उद्घाटन

रुद्रपुर, पुलिस उपमहानिरीक्षक पूरन सिंह रावत ने पुलिस लाइन में निर्मित पुस्तकालय भवन का उद्घाटन किया. उन्होंने इस पुस्तकालय में मौजूद पुस्तकों को भी देखा.रावत ने पुलिस लाइन में पुलिस कर्मियों के लिए बनाई गई लाइब्रेरी का फीता काट कर उद्घाटन किया. यह लाइब्रेरी महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा एवं बजाज के सहयोग से बनाई गई है.

इसमें विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए पुस्तकें उपलब्ध कराई गई हैं. डीआईजी ने उद्घाटन के बाद उसमें रखी पुस्तकों को देखा. जीआईजी ने कहा कि पुलिस कर्मचारी इन पुस्तकों का अध्ययन करके प्रतियोगी परीक्षा में बैठ सकते हैं. साथ ही अपना ज्ञान वर्धन कर सकते हैं.

कहा कि फैक्ट्रियों का सहयोग पुलिस कर्मियों का बौद्धिक विकास में सहायक साबित होगा. इस मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. सदानंद एस दाते, महिंद्रा एंड महिंद्रा के अनिल प्रताप, टाटा से संतोष कुमार, बजाज के प्लांट हेड अनिल मोहगांवकर व आशुतोष शर्मा आदि मौजूद थे.

डीआईजी पूरन सिंह रावत ने बारावफात के मौके पर हुए हंगामे पर कहा कि स्थानीय अभिसूचना विभाग की रिपोर्ट को क्यों नजरअंदाज किया गया, इसकी वह जांच कराएंगे. कहा कि जांच के बाद वह कार्रवाई कराएंगे. पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए डीआईजी ने कहा कि बारावफात के दिन निर्धारित संख्या से अधिक गेट बनाने के मामले में हुए हंगामे को गंभीरता से लिया जा रहा है.

कहा कि यदि एलआईयू ने पहले ही अपनी रिपोर्ट दी थी तो उस पर गौर क्यों नहीं किया गया? इसकी जांच होगी. जांच के बाद संबंधित के खिलाफ कार्रवाई होगी. उन्होंने कहा कि नेपाल में चल रहे चुनाव के मद्देनजर सीमा पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.डीआईजी ने बाद में पुलिस लाइन में जिले के पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर अपराधों की समीक्षा की.