मौका-मौका : उत्तराखंड बनने के बाद पहली बार होगी इन पदों पर भर्तियां, तैयार रहें

उत्तराखंड को अलग राज्य बने 17 साल हो चुके हैं और इतने ही साल बाद यह मौका आया है, जब इस विभाग में इन पदों के भर्ती की तैयारी शुरू की गई. युवा इस मौके का भरपूर फायदा उठा सकते हैं.

वन विभाग में सहायक वन संरक्षक (एसीएफ) के पदों को भरने की तैयारी शुरू की गई है. 17 साल बाद जंगल की सुरक्षा से जुड़े इस महत्वपूर्ण पद पर नियमित भर्ती होगी. मौजूदा समय में सहायक वन संरक्षक 32 पदों पर प्रभारी तैनात हैं. इसके बाद भी छह पद खाली हैं.

वन विभाग में सबसे महत्वपूर्ण पदों में से एक एसीएफ का पद होता है. जो रेंजर से लेकर वन रक्षक तक टीम का प्रबंधन करता है. राज्य बनने के बाद से वन विभाग में एसीएफ पदों पर सीधी भर्ती से कोई भी अधिकारी तैनात नहीं हुआ है.

मौजूदा समय में 90 पदों में 49 पदों पर प्रमोशन से वनाधिकारी पहुंचे हैं. तीन पदों पर यूपी से आए अधिकारी तैनात हैं. 32 पदों पर प्रभारियों को तैनात कर काम चलाया जा रहा है. इसके बाद भी छह पदों पर कोई भी अधिकारी तैनात नहीं है.

अब प्रमुख वन संरक्षक (एचआरडी) मोनिष मल्लिक के अनुसार 43 पदों पर भर्ती करने की डिमांड शासन के माध्यम से लोक सेवा आयोग को भेज दी गई है. इन पदों पर अधिकारियों के आने से वनों की सुरक्षा और मजबूत होगी.

पिछले महीने आईएफएस अधिकारियों के तबादले हुए थे. इसमें कई विसंगति सामने आई थीं. इसमें कैंपा के सीईओ पद पर तैनात अधिकारी को हटा दिया गया, लेकिन कोई तैनाती नहीं हुई.

इसके अलावा वन संरक्षक वन्यजीव जैसे पद बनाकर अधिकारियों को तैनात कर दिया गया. अपर मुख्य सचिव डॉ.रणवीर सिंह के अनुसार कुछ विसंगति सामने आई हैं, जल्द ही इन्हें दूर कर लिया जाएगा.