नोएडा के 8 बिल्डर होंगे गिरफ्तार…

बिल्डरों की मनमनी पर ब्रेक लगाने की दिशा में यूपी सरकार ने सक्रियता बढ़ा दी है.ग्रेटर नोएडा में फ्लैट बनाकर खरीदारों को पजेशन नहीं देने वाले बिल्डरों के खिलाफ सबसे बड़ा कदम उठाया है.

मंत्री समूह ने सोमवार को गौतम बुद्ध नगर के एसएसपी लव कुमार को निर्देश दिया कि अपने ग्राहकों को 5,000 घरों की डिलिवरी नहीं देनेवाले इन 8 बिल्डरों को अरेस्ट किया जाए.वहीं, नोएडा के अधिकारियों ने इन बिल्डरों के नाम बताने से इनकार कर दिया.

शहरी आवास मंत्री सुरेश खन्ना, जिन्हें तीन मंत्रियों की समिति में शामिल किया गया है, एसएसपी के बिल्डरों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है और और इन पर एफआईआर दर्ज करने का भी निर्देश दिया.

सितंबर महीने में उन छह बिल्डरों के खिलाफ 13 एफआईआर दर्ज किए गए जिनके प्रॉजेक्ट्स नोएडा और ग्रेटर नोएडा में हैं.

इसी साल अगस्त में इसी मंत्री समूह की बैठक के बाद आम्रपाली, सुपरटेक, अल्पाइन रियलटेक, प्रोव्यू ग्रुप, टुडे होम्स और जेएनसी कंस्ट्रक्शन्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था. इन पर आईपीसी की धारा 406 (आपराधिक विश्वासघात) और धारा 420 (धोखेबाजी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई.