पूर्व सरकारों ने यूपी-उत्तराखंड लंबित विवादों पर नहीं दिखाई गंभीरता : त्रिवेंद्र रावत

फाइल चित्र

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड की पूर्ववर्ती सरकारों पर दोनों राज्यों के बीच लंबित विवादों का समाधान निकालने की कोई भी कोशिश न करने का आरोप लगाया.

त्रिवेंद्र रावत ने गोरखपुर में संवाददाताओं से कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड तथा केंद्र की पूर्ववर्ती सरकारों ने दोनों राज्यों के बीच लंबित विवादों के निपटारे में जानबूझकर टालमटोल की, लेकिन अब दोनों प्रदेशों तथा केंद्र में ऐसी सरकारें हैं जो विवादों का निपटारा करने में यकीन रखती हैं. अब सभी विवादों के निपटारे का समय आ गया है.

रावत सोमवार को गोरखपुर में महाराणा प्रताप शिक्षण संस्थान के स्थापना दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करेंगे.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने गुजरात विधानसभा चुनाव का जिक्र करते हुए दावा किया कि अब कांग्रेस के सफाए का वक्त आ गया है. उत्तर प्रदेश के महापौर के चुनाव में यह पार्टी पहले ही साफ हो चुकी है और गुजरात विधानसभा चुनाव में भी उसका यही हश्र होगा.