गुरुग्राम : ICU में भर्ती नाबालिग से रेप की कोशिश

गुरुग्राम, रेप करने वालों के हौंसले कितने बुलंद हो गए हैं, इसका पता इसी बात से चलता है कि अब अस्पताल में भर्ती मरीजों को भी नहीं बख्शा जा रहा है. ऐसा ही एक वाकया सामने आया है गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल से, जहां पर दो पुरुष स्वास्थ्यकर्मियों (पुरुष नर्स) रविंदर और कुलदीप ने एक 16 साल की लड़की के साथ रेप करने की कोशिश की है. यह आरोप उस लड़की की मां ने लगाया है.

मां के अनुसार जब लड़की आईसीयू में भर्ती थी, उस दौरान 27 साल और 23 साल के दो स्वास्थ्य कर्मियों ने उसके साथ रेप करने की कोशिश की. दोनों ने लड़की को किस भी किया और शरीर पर हाथ फेरते रहे. लड़की के गले में पाइप लगा था, इसलिए वह चाह कर भी कुछ नहीं बोल सकी. लड़की ने बताया कि उसे एक इंजेक्शन देकर बेहोश करने की कोशिश की गई और उसके ऊपर भी आने की कोशिश की गई.

लड़की की मां ने बताया कि एक स्वास्थ्य कर्मी ने धमकी भी दी थी कि अगर वह विरोध करेगी तो उसका ऑक्सीजन मास्क हटा दिया जाएगा. सोमवार को दोनों को शिकायत के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस में दर्ज शिकायत के अनुसार 16 नवंबर को 12वीं की इस छात्रा के साथ आईसीयू में यह घटना हुई है. दोनों स्वास्थ्य कर्मियों ने उसे गलत तरीके से छुआ. यह घटना गुरुग्राम के पश्चिमी राजीव नगर स्थित शिवा अस्पताल के आईसीयू की है. लड़की ने सॉफ्ट ड्रिंक समझ कर एक विशैला पदार्थ पी लिया था, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बावजूद लड़की ने किसी को कुछ नहीं बताया. उसके बाद भी वह दोनों पुरुष स्वास्थ्य कर्मी लगातार उसे फोन करके धमकाते रहे और आखिरकार लड़की ने सब कुछ अपनी मां को बता दिया. पुलिस शिकायत के बाद सोमवार को दोनों को गिरफ्तार करके सिटी कोर्ट में हाजिर किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. शिवा अस्तपाल प्रशासन का कहना है कि उन्होंने दोनों को नौकरी से निकाल दिया है. वहीं दूसरी ओर पुलिस ने कहा है कि वह अस्पताल प्रशासन से भी बात कर रहे हैं दोनों पुरुष स्वास्थ्य कर्मियों पर आईपीसी की धारा 328 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज करने के साथ-साथ पॉस्को (प्रोडेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्शुअल ऑफेंसेस) एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया गया है